scorecardresearch
Thursday, 20 June, 2024
होमदेशअपराधशाहबाद डेरी..रविवार... रात 8:40 पर 16 साल की नाबालिग लड़की को चाकू से गोदने और मारने की पूरी कहानी

शाहबाद डेरी..रविवार… रात 8:40 पर 16 साल की नाबालिग लड़की को चाकू से गोदने और मारने की पूरी कहानी

पुलिस ने कहा कि आरोपी साहिल ने दो दिन पहले हत्या की साजिश रची थी, जब 16 वर्षीय नाबालिग ने अपने दोस्तों के सामने उसे डांटा था.

Text Size:

नई दिल्ली: दिल्ली में 16 साल की नाबालिग लड़की की 20 से ज्यादा बार चाकू घोंप कर हत्या करने वाले आरोपी साहिल को आज मेडिकल जांच के लिए महर्षि वाल्मीकि अस्पताल ले जाया गया.

शाहबाद डेरी हत्याकांड में आरोपी युवक द्वारा इस्तेमाल किया गया चाकू उसने करीब 15 दिन पहले उत्तराखंड के हरिद्वार से खरीदा था और हत्या के बाद उसे रिठाला मेट्रो स्टेशन के पास फेंक दिया था. पुलिस कहा कि अभी तक हत्या में इस्तेमाल चाकू बरामद नहीं किया गया है.

पुलिस के अनुसार आरोपी साहिल ने दो दिन पहले हत्या की साजिश रची थी, जब 16 वर्षीय नाबालिग ने अपने दोस्तों के सामने उसे डांटा और उसके साथ रिश्ते सुधारने से इनकार कर दिया था.

एफआईआर में दर्ज कराए गए बयान में नाबालिग के पिता ने कहा कि उनकी बेटी साहिल को जानती थी और वह अक्सर उसका नाम लेती थी.

मृतका के पिता ने कहा, ‘‘उसकी करीब एक साल से उससे दोस्ती थी. हमने उसे समझाने की कोशिश की थी कि वह अभी छोटी है और उसे अपनी पढ़ाई पर ध्यान लगाना चाहिए लेकिन जब भी हम उसे साहिल से दूर रहने के लिए बोलते थे तो वह नाराज हो जाती थी और अपनी दोस्त के घर चली जाती थी.’’

साहिल (20) ने नाबालिग पर चाकू से 20 से ज्यादा बार वार किए और उसके बाद सीमेंट के स्लैब से भी उस पर कई बार वार किया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. उसके शरीर पर चोट के 34 निशान थे और उसकी खोपड़ी फट गई थी.

एक अधिकारी ने कहा कि साहिल ने स्वीकार किया है कि उसने हरिद्वार से चाकू खरीदा था, लेकिन जांचकर्ताओं को गुमराह करने के लिए बार-बार अपना बयान बदल रहा है.

पुलिस के अनुसार, चूंकि साहिल ने घटना से कुछ दिन पहले चाकू खरीदा था, इसलिए इस आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता कि वह पहले से ही उसे मारने की योजना बना रहा था. इसके बावजूद, उसने (साहिल ने) यह भी दावा किया कि उसने गुस्से में आकर लड़की को मार डाला क्योंकि वह उसकी अनदेखी कर रही थी.

अधिकारी ने कहा, “उसके बयानों का सत्यापन किया जा रहा है क्योंकि यह जांच का प्रारंभिक चरण है. कभी-कभी वह कह रहा है कि वह उसकी अनदेखी कर रही थी, जिससे उसे गुस्सा आ गया. साहिल को यह भी शक था कि वह अपने पूर्व प्रेमी के साथ संपर्क में थी.”

पुलिस ने बताया कि आरोपी को यहां दिल्ली की एक अदालत में पेश किया गया और अदालत के आदेश के बाद उसे दो दिन के लिए पुलिस रिमांड में भेज दिया गया.


यह भी पढ़ें: दिल्ली में एक के बाद एक मर्डर किसकी चूक- तमाशा देखते लोग, पुलिस या फिर सरकार


आठ दिन पहले की थी दोस्ती खत्म

पुलिस के अनुसार, साहिल ने संभवत: लड़की पर हमला इसलिए किया क्योंकि उसने अपने पूर्व प्रेमी प्रवीण से मिलना शुरू कर दिया था.

पुलिस ने कहा कि साहिल ने दावा किया है कि नाबालिग प्रवीण के पास वापस जाने के लिए उत्सुक थी क्योंकि उसके पास मोटरसाइकिल थी.

शनिवार को नाबालिग ने साहिल को उससे दूर रहने की चेतावनी दी क्योंकि वह उसके साथ अपने रिश्ते को जारी नहीं रखना चाहती थी. उस वक्त वह अपनी दोस्त भावना और उसके प्रेमी झबरू के साथ थी. पुलिस ने बताया कि झबरू ने भी नाबालिग के पास आने पर साहिल को पीटने की धमकी दी थी.

नाबालिग ने आठ दिन पहले साहिल से अपनी दोस्ती खत्म कर दी थी.

पुलिस ने यह भी कहा कि साहिल को धमकाने के लिए नाबालिग ने अपनी दोस्त नीतू के पति के नाम का इस्तेमाल किया, जो इलाके का कुख्यात अपराधी है.

पुलिस के मुताबिक, नाबालिग और साहिल जून 2021 से साथ थे, लेकिन पिछले तीन-चार महीने से जैसे-जैसे साहिल उसके करीब आने की कोशिश करता, किशोरी उससे दूरियां बढ़ा रही थी.

पुलिस ने कहा कि साहिल ने रविवार दोपहर शराब पी और नाबालिग से झगड़ा किया, जो अपने दोस्त के बच्चे की बर्थडे पार्टी में जा रही थी. उसने किशोरी पर हमला कर उसकी जान ले ली. इसके बाद साहिल पास के एक पार्क में गया और कुछ देर वहां बैठा रहा.

बाद में, वह रिठाला मेट्रो स्टेशन गया. उसने दावा किया कि कि उसने चाकू को वहीं झाड़ियों में फेंक दिया और आनंद विहार बस अड्डा चला गया, जहां से उसने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के लिए बस पकड़ी.

साहिल को बुलंदशहर से गिरफ्तार किया गया, जब उसकी बुआ ने उसके पिता को फोन किया था. फोन से उसकी जानकारी मिलने के बाद उसकी गिरफ्तारी हुई थी. वहां उसकी मेडिकल जांच के बाद सोमवार देर शाम उसे राष्ट्रीय राजधानी लाया गया.

पुलिस के मुताबिक प्रवीण, जिसकी उम्र भी 20 साल के आसपास है, उत्तर प्रदेश के जौनपुर में है और उसे जांच में शामिल होने के लिए दिल्ली आने को कहा गया है.

पुलिस ने कहा कि साहिल को यहां दिल्ली की एक अदालत में पेश किया गया और अदालत के आदेश के बाद उसे दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

उन्होंने कहा कि वे अपराध के दृश्य को दोहराएंगे और यह जानने के लिए साहिल के मोबाइल फोन और सोशल मीडिया एकाउंट्स की भी जांच करेंगे कि वह अन्य लड़कियों के संपर्क में भी था या नहीं.

पुलिस को घटना की सूचना करीब 25 मिनट बाद मिली

पुलिस के मुताबिक घटना की सूचना उसे करीब 25 मिनट बाद मिली. आसपास खड़े लोगों में से किसी ने भी पीसीआर कॉल नहीं की और एक पुलिस मुखबिर ने घटना की जानकारी दी. इसके बाद रात करीब साढ़े नौ बजे पुलिस की एक टीम को घटनास्थल पर भेजा गया.

पुलिस के विशेष आयुक्त संजय सिंह ने एक ट्वीट में लोगों से शांत रहने और ऐसी असाधारण स्थिति का सामना करने पर पुलिस को बुलाने का आग्रह किया.

उन्होंने कहा, “बच्ची नाबालिग की हत्या के न तो किसी चश्मदीद गवाह ने और न ही मोहल्ले के किसी व्यक्ति ने दिल्ली पुलिस को कोई पीसीआर कॉल किया.”

उन्होंने कहा, “एक साधारण व्यक्ति असाधारण परिस्थितियों का सामना कर रहा है, एक साथी नागरिक को जीवन और मृत्यु की स्थिति में देखकर मदद कर सकता है. शांत रहें और 112 पर कॉल करें.”


यह भी पढ़ें: पीड़िता के परिवार से मिलने के बाद स्वाति मालीवाल बोलीं- अब दिल्ली में कोई नहीं डरता, रोज हो रहे 6 रेप


share & View comments