आशीष पर दिल्ली के एक लग्ज़री होटल में एक शख्स को बंदूक के दम पर धमकाने का आरोप है. (फोटो: यूट्यूब स्क्रीनशॉट)
Text Size:

बहुजन समाज पार्टी के पूर्व सांसद राकेश पांडे के बेटे आशीष पांडे ने दिल्ली की एक अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. आशीष पर दिल्ली के एक लग्ज़री होटल में एक शख्स को बंदूक के दम पर धमकाने का आरोप है.

नई दिल्ली: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व सांसद राकेश पांडे के बेटे आशीष पांडे ने गैर ज़मानती वारंट जारी होने के एक दिन बाद गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. आशीष पर दिल्ली के एक लग्ज़री होटल में एक शख्स को बंदूक के दम पर धमकाने का आरोप है.

बसपा के पूर्व सांसद के बेटे आशीष पांडे ने गुरुवार सुबह पटियाला हाउस कोर्ट में मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट धर्मेद्र सिंह के सामने आत्मसमर्पण कर दिया.

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट अंबिका सिंह ने बुधवार को दिल्ली पुलिस की याचिका पर उसके खिलाफ गैर ज़मानती वारंट जारी किया था.

दक्षिण दिल्ली में रविवार को हयात रेजेंसी होटल के बाहर एक व्यक्ति और उसकी महिला मित्र को बंदूक के दम पर धमकाने के लिए पांडे के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी, जिसके बाद यह वारंट जारी किया गया.

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार दिल्ली पुलिस ने आशीष की चार दिन की रिमांड के लिए याचिका दायर की और अदालत ने उसे एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है. याचिका दायर करते हुए सरकारी वकील ने कहा कि वह आशीष की रिमांड चाहते हैं क्योंकि उसे लखनऊ भी ले जाना है और उसके हथियार भी बरामद करने हैं.

इस पर आशीष के वकील ने पुलिस के रिमांड लेने वाली याचिका का विरोध किया और कहा कि हम कोर्ट में पिस्तौल के लाइसेंस जमा करा रहे हैं. हम पिस्तौल भी जमा करा सकते हैं. मेरा मुवक्किल सिर्फ इसलिए परेशानी झेल रहा है क्योंकि इस केस को मीडिया का हाइप मिल गया है और क्योंकि उसके पिता सांसद रह चुके हैं. यह मामला राजनीति से प्रेरित है.

अदालत ने पुलिस की याचिका पर सुनवाई करते हुए आशीष पांडेय को 4 दिन की बजाय एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. इससे पहले उसने एक वीडियो भी जारी किया. इस वीडियो को जारी कर उसने अपनी सफाई दी. उसने कहा कि लड़की ने पहले मुझे अश्लील इशारे किए जिसके बाद विवाद बढ़ा.

उसने आरोप लगाया कि, मुझे आतंकी की तरह पेश किया जा रहा है. नेता का बेटा होना कोई गुनाह नहीं है. मैं सुरक्षा के लिए हथियार लाया था. मेरा मीडिया ट्रायल हो रहा है. आशीष इस वीडियो में सफेद शर्ट में दिखाई दे रहा है। उसने कहा मुझे न्यायिक प्रक्रिया में पूरा भरोसा है. मैंने किसी पर पिस्टल नहीं तानी, मेरा लाइसेंस वैध है.

आशीष पांडेय ने ये भी कहा कि वह बंदूक लहरा नहीं रहा था, बल्कि मैं उसे अपने साथ हमेशा रखता हूं. मैंने उस लड़की से बात भी नहीं की. वही मुझे धक्का दे रही थी और हाथों से अश्लील इशारे कर रही थी. मुझे न्याय व्यवस्था पर पूरा भरोसा है इसलिए मैंने आत्मसमर्पण के लिए सोचा है.

क्या था मामला

आशीष अपने दोस्तों के साथ शनिवार रविवार की दरमियानी रात में शराब के नशे में थे जब ये घटना हुई. पुलिस का कहना था कि आशीष दिल्ली में अपने एक व्यापारी दोस्त से मिलने आया था. आशीष हयात में अपनी तीन महिला मित्रों के साथ था.

कुछ सूत्रों का कहना है कि आशीष महिला बाथरूम में घुस गया था जहां उसकी कुछ महिलाओं ने कहासुनी हो गई थी. जिसके बाद उसे होटल से चले जाने को कहा गया था.

निकलते वक्त उसका एक महिला और उसके पुरुष मित्र से झगड़ा हो गया और उन्होंने अपनी पिस्तौल तान ली थी. घटना का वीडियो वायरल हुआ जिसके बाद पुलिस ने आशीष की खोज शुरू की.

(आईएएनएस  इनपुट के साथ)


Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here