scorecardresearch
Thursday, 30 May, 2024
होमदेश'भारत की संस्कृति, मूल्यों' को बढ़ावा देने के लिए केंद्र लॉन्च करेगा खुद का ओटीटी प्लेटफॉर्म

‘भारत की संस्कृति, मूल्यों’ को बढ़ावा देने के लिए केंद्र लॉन्च करेगा खुद का ओटीटी प्लेटफॉर्म

प्रसार भारती अगस्त में लॉन्च की उम्मीद कर रहा है. यह शुरुआत में पहले कुछ वर्षों के लिए मुफ्त में कॉन्टेंट प्रसारित करेगा. ऐसा पता चला है कि इसका उद्देश्य ऐसी प्रोग्रामिंग बनाना है जिसे पूरा परिवार एक साथ बैठकर देख सके.

Text Size:

नई दिल्ली: दिप्रिंट को मिली जानकारी के मुताबिक सरकार का पब्लिक सर्विस ब्रॉडकास्टर प्रसार भारती अगस्त से अपना खुद का ओवर-द-टॉप (ओटीटी) प्लेटफॉर्म शुरू करने की योजना बना रहा है, जो भारतीय समाज और संस्कृति पर केंद्रित कॉन्टेंट प्रसारित करेगा.

नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि ओटीटी प्लेटफॉर्म – जो नेटफ्लिक्स और हॉटस्टार जैसे निजी प्लेटफार्मों के साथ प्रतिस्पर्धा करेगा – पहले एक या दो साल फ्री में कॉन्टेंट उपलब्ध कराएगा.

मनोरंजन के अलावा, पेश किए जाने वाले कार्यक्रमों में समसामयिक मामलों को भी शामिल किया जाएगा.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

शुरुआत में ओटीटी प्लेटफॉर्म को बढ़ावा देने के लिए कंटेंट मुफ्त में प्रसारित किया जाएगा. फीडबैक के आधार पर, प्रसार भारती पहले कुछ वर्षों के बाद शुल्क तय करेगा. ऊपर जिस अधिकारी का जिक्र किया गया है उसने कहा, “फिलहाल, हम इसे अगस्त में लॉन्च करने पर काम कर रहे हैं.”

प्रसार भारती बोर्ड ने ओटीटी प्लेटफॉर्म के लिए कॉन्टेंट प्रदाताओं की एक सूची को मंजूरी दे दी है. इस सूची में श्री अधिकारी ब्रदर्स, टेलीविजन कॉन्टेंट तैयार करने वालों के बड़े नाम, निर्माता और निर्देशक विपुल शाह, जिन्होंने द केरला स्टोरी बनाई, और अभिनेता कबीर बेदी सहित अन्य शामिल हैं.

अधिकारी ने कहा, “हमने कॉन्टेंट प्रोवाइडर्स के साथ एक बैठक की है और उन्हें हम जो चाहते हैं उसकी विस्तृत रूपरेखा दी है. वे अब अपने कॉन्सेप्ट नोट के साथ हमारे पास वापस आएंगे.”

सरकार ने पिछले साल ही किसी समय अपना ओटीटी प्लेटफॉर्म लॉन्च करने की योजना पर काम करना शुरू कर दिया था. सितंबर 2023 में, प्रसार भारती ने अपने “उपलब्ध कॉन्टेंट और भारत के सभी नागरिकों, यहां तक कि दूरदराज के गांवों के साथ-साथ वैश्विक दर्शकों तक पहुंच” के लिए अपने स्वयं के ओटीटी स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म को डिजाइन, विकसित, कमीशन, संचालित और बनाए रखने के लिए एक मसौदा निविदा जारी की.

नेटफ्लिक्स, अमेज़ॉन प्राइम और हॉटस्टार जैसे निजी ओटीटी प्लेटफॉर्म पहले भी अपने प्रसारित होने वाले कॉन्टेंट को लेकर सरकार के निशाने पर रहे हैं.

मार्च में, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 के प्रावधानों के तहत “अश्लील ” सामग्री प्रसारित करने और प्रकाशित करने के लिए 18 ओटीटी प्लेटफार्मों और उनसे जुड़े सोशल मीडिया अकाउंट्स तक लोगों की पहुंच पर रोक लगा दी थी.

इससे पहले, मई 2023 में, एक संसदीय पैनल ने नेटफ्लिक्स और अमेज़ॉन प्राइम जैसे ओटीटी प्लेटफार्मों के प्रतिनिधियों को बुलाया था और उन्हें “अश्लील और अपमानजनक” सामग्री प्रसारित करने से रोकने के लिए कहा था.


यह भी पढ़ें: ‘आग से बपतिस्मा’ — कटक में पूर्व कॉर्पोरेट प्रमुख संतरूप मिश्रा की चुनावी शुरुआत 


 

share & View comments