Wednesday, 5 October, 2022
होमदेशगोमती रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट में कथित भ्रष्टाचार को लेकर CBI ने UP में 40 से ज्यादा जगहों पर मारे छापे

गोमती रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट में कथित भ्रष्टाचार को लेकर CBI ने UP में 40 से ज्यादा जगहों पर मारे छापे

उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान परियोजना संचालित हुई थी. राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने लखनऊ में गोमती रिवर फ्रंट परियोजना में कथित अनियमितताओं के संबंध में गाजियाबाद, लखनऊ, आगरा में 40 से ज्यादा जगहों पर छापे मारे हैं. एजेंसी में ने इसमें एक नया मामला दर्ज किया है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान परियोजना संचालित हुई थी. राज्य में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं.

अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद सोमवार को कई राज्यों में करीब 43 जगहों पर व्यापक तलाशी अभियान चलाया.

उन्होंने कहा कि सुबह शुरू हुआ तलाशी अभियान अभी चल रहा है और आज जारी रह सकता है. अधिकारियों के मुताबिक, प्राथमिकी में करीब 180 अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है जिनमें बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश सरकार के अभियंता तथा अन्य अधिकारी शामिल हैं. सीबीआई ने उक्त परियोजना के सिलसिले में यह दूसरी प्राथमिकी दर्ज की है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं जिनमें अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी और मायावती की अगुवाई में बहुजन समाज पार्टी के साथ ही कांग्रेस एवं अन्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी को राज्य की सत्ता से हटाने की कोशिश करेंगे.

(भाषा के इनपुट्स के साथ)

share & View comments