scorecardresearch
Thursday, 18 July, 2024
होमदेशसेना पर टिप्पणी को लेकर BJP ने राहुल गांधी को घेरा, योगी ने उनके बयान को बताया राष्ट्र विरोधी

सेना पर टिप्पणी को लेकर BJP ने राहुल गांधी को घेरा, योगी ने उनके बयान को बताया राष्ट्र विरोधी

अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारत में आज 300 से ज्यादा डिफेंस आइटम बन रहे हैं. भारत अब रक्षा उपकरणों का निर्यातक है न कि आयातक. यह 'आत्मनिर्भर भारत' है.

Text Size:

नई दिल्ली: चीन और भारतीय सैनिकों के बीच झड़प के बाद राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर कानून मंत्री किरेन रिजिजू, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस नेता पर शनिवार को निशाना साधा है.

कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा कि राहुल गांधी न केवल भारतीय सेना का अपमान कर रहे हैं, बल्कि देश की छवि भी बिगाड़ रहे हैं.

वहीं, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस को हमारी सेना पर भरोसा नहीं है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘राहुल गांधी का बयान अपमानजनक है और राष्ट्र विरोधी तत्वों को प्रेरित करता है.’

जेपी नड्डा ने कहा, ‘राहुल गांधी का बयान हमारी सेना का मनोबल गिराने का काम करता है.’

दरअसल, भारत जोड़ो यात्रा के 100 दिन पूरे होने पर शुक्रवार को राहुल गांधी ने जयपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया था कि चीन युद्ध की तैयारी कर रहा है, जबकि भारत सरकार सोई हुई है और खतरे को नज़रअंदाज करने की कोशिश कर रही है.

उन्होंने कहा कि सरकार तवांग मुद्दे को छिपाने की कोशिश कर रही है.

राहुल गांधी की टिप्पणी पर अरुणाचल प्रदेश से सांसद किरेन रिजिजू ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर पोस्ट कर पलटवार किया.

रिजिजू ने कहा, ‘राहुल गांधी न केवल भारतीय सेना का अपमान कर रहे हैं, बल्कि देश की छवि भी बिगाड़ रहे हैं. वह न केवल कांग्रेस पार्टी के लिए समस्या हैं, बल्कि देश के लिए शर्मिंदगी का बड़ा कारण भी बन गए हैं.’

उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘भारतीय सेना के वीर जवानों की पर्याप्त तैनाती के कारण अरुणाचल प्रदेश के तवांग में यांग्त्से क्षेत्र अब पूरी तरह से सुरक्षित है.’

 

 

बता दें कि राहुल ने यह भी आरोप लगाया था कि चीन ने 2,000 वर्ग किलोमीटर भारतीय क्षेत्र छीन लिया है, 20 भारतीय सैनिकों की हत्या कर दी है और ‘चीन अरुणाचल प्रदेश में हमारे जवानों को पीट रहा है.’

इस पर रिजिजू ने कहा कि लोगों को भारतीय सशस्त्र बलों पर गर्व है.

‘चीन अरुणाचल प्रदेश में हमारे जवानों को पीट रहा है’ वाली टिप्पणी को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा कि कांग्रेस को राहुल को पार्टी से निष्कासित कर देना चाहिए.

वहीं, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और योगी आदित्यनाथ ने राहुल के बयान को डोकलाम घटना से जोड़ा.

अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘डोकलाम घटना के दौरान राहुल गांधी को चीनी अधिकारियों के साथ सूप पीते देखा गया था जबकि भारतीय सेना चीनी सैनिकों से लड़ रही थी. जब भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक की तब भी उन्होंने हमसे सवाल किया.’

योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘डोकलाम घटना के दौरान हमारे सैनिकों का सम्मान करने के बजाय उनका चरित्र स्पष्ट दिख रहा था.’


यह भी पढ़ेंः रघुराम राजन के भारत जोड़ो यात्रा से जुड़ने पर उर्दू प्रेस का सवाल- क्या वह कांग्रेस के अगले मनमोहन हैं


यह आत्मनिर्भर भारत है

अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘यह 1962 का भारत नहीं है, यह 2014 का भारत है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत आगे बढ़ रहा है. यूपीए सरकार 10 साल तक हमारी सेना के लिए फाइटर जेट, बुलेटप्रूफ जैकेट या स्नो बूट नहीं खरीद सकी.’

उन्होंने राहुल गांधी से सवाल किया कि आपने हमारी सेना के लिए क्या किया?

ठाकुर ने कहा, ‘भारत में आज 300 से ज्यादा डिफेंस आइटम बन रहे हैं. भारत अब रक्षा उपकरणों का निर्यातक है न कि आयातक. यह ‘आत्मनिर्भर भारत’ है. डोकलाम घटना के दौरान भी पीएम मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हमारी सेना का दौरा किया था.’

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘राहुल गांधी का बयान अपमानजनक है और राष्ट्र विरोधी तत्वों को प्रेरित करता है. यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत और भारतीय सेना का अपमान करने वाला है. हम इसकी निंदा करते हैं.’

अनुराग ठाकुर ने कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस को हमारी सेना पर भरोसा नहीं है.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी राहुल गांधी के बयान की निंदा की.

उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी का बयान हमारी सेना का मनोबल गिराने का काम करता है. इसकी जितनी निंदा की जाए कम है. भारतीय सेना शौर्य और शौर्य की प्रतीक है. हम जानते हैं कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने कांग्रेस पार्टी के साथ एमओयू साइन किया था.’

रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट ने भी राहुल गांधी के बयान की आलोचना की.

उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी को देश में कोई गंभीरता से नहीं लेता. सर्जिकल स्ट्राइक के वक्त कांग्रेस और राहुल गांधी के बयानों को सभी जानते हैं. जब भी अच्छा काम होता है, उन्हें कुछ न कुछ कहना पड़ता है और वह सेना का मनोबल गिराने की कोशिश करते हैं.’

वहीं, योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘हम चाहते हैं कि कांग्रेस और राहुल गांधी देश के जवानों और लोगों से माफी मांगें और उन्हें देश को बार-बार संकट में डालने की हरकत से बचना चाहिए.’

बीजेपी नेता अमित मालवीय ने एक ट्वीट में कहा, ‘हो सकता है राहुल गांधी ने चीनियों के आतिथ्य और राजीव गांधी फाउंडेशन को दान के बदले में अपना जमीर बेच दिया हो. नेहरू-गांधी परिवार ने हमेशा अपने हित को राष्ट्र से ऊपर रखा है और हमारे सशस्त्र बलों का मजाक उड़ाया है, लेकिन हम भारतीय सेना के साख खड़े हैं.’


यह भी पढ़ेंः तवांग झड़प और एम्स साइबर अटैक बताते हैं कि चीन हमारी जमीन नहीं बल्कि हमारे दिमाग पर कब्जा करना चाहता है


 

share & View comments