भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह । पीटीआई
Text Size:
  • 32
    Shares

नई दिल्ली: कोलकाता उच्च न्यायालय की ओर से भाजपा को पश्चिम बंगाल में ‘रथ यात्रा’ निकालने की अनुमति देने से इंकार करने के कुछ घंटों बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि अदालत के आदेश के बाद वह लोकतांत्रिक तरीके से जुलूस निकालेंगे. शाह शनिवार को कोलकाता का दौरा करने वाले हैं. उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी निशाना साधा और कहा कि वह ‘डरी हुई’ हैं.

उन्होंने कहा, ‘ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में भाजपा के उदय से डरी हुई हैं, इसलिए उन्होंने राज्य में रथ यात्रा की अनुमति नहीं दी है.’

शाह ने कहा, ‘मैं उनका डर समझ सकता हूं. लेकिन मेरे पास इसका कोई समाधन नहीं है..भाजपा को समर्थन करने का निर्णय लोगों का है.’

उन्होंने स्पष्ट किया कि यात्रा को अस्थायी तौर पर टाला गया है, न कि रद्द किया गया है.

शाह ने कहा, ‘अदालत की इजाजत के बाद यात्रा निकाली जाएगी और हम सर्वोच्च न्यायालय भी जाएंगे.’

उन्होंने पार्टी मुख्यालय में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘यात्रा को रोकने का कोई कारण नहीं है, क्योंकि हमारी सभी यात्राओं में किसी भी प्रकार के सांप्रदायिक तनाव और हिंसा की खबर नहीं आई है.’

राज्य की तृणमूल सरकार पर कानून-व्यवस्था बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए शाह ने कहा कि बनर्जी के शासनकाल में राज्य में हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं.

उन्होंने कहा, ‘जहां लोग पहले रबिंद्र संगीत सुना करते थे, वहां अब बम विस्फोट सुनते हैं.’

शाह ने कहा, ‘ममता के शासन काल में हिंसा की घटनाएं बढ़ गई हैं. भाजपा में अकेले 20 लोगों की हत्याएं हुई हैं. पश्चिम बंगाल में शासन ध्वस्त हो चुका है और लोग बदलाव चाह रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि आगामी आम चुनाव से पहले भाजपा ने पश्चिम बंगाल में तीन रैलियों की इजाजत मांगी है.


  • 32
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here