scorecardresearch
Wednesday, 29 May, 2024
होमदेशबाहुबली स्टार प्रभास की रामायण पर आधारित नई फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ की तरह एक प्रोपेगेंडा फिल्म है : KTR

बाहुबली स्टार प्रभास की रामायण पर आधारित नई फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ की तरह एक प्रोपेगेंडा फिल्म है : KTR

जब उनसे पूछा गया कि क्या आपने ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म देखी है तो उन्होंने कहा, वह प्रोपेगेंडा फिल्में नहीं देखते हैं. उनके अनुसार ऐसी 15 फिल्मों पर काम चल रहा है.

Text Size:

हैदराबाद: तेलंगाना के मंत्री केटी रामा राव ने द कश्मीर फाइल्स को एक प्रोपेगेंडा फिल्म बताया है. उन्होंने कहा कि बाहुबली स्टार प्रभास की 2023 में रिलीज होने वाली ‘आदिपुरुष’ भी एक ऐसी ही फिल्म है.

अगले साल जनवरी में रिलीज के लिए तैयार फिल्म ‘आदिपुरुष’, रामायण पर आधारित है. इसमें प्रभास, कृति सनोन और सैफ अली खान मुख्य भूमिकाओं में हैं.

मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के बेटे के.टी.आर ने कहा, ‘उन्हें यकीन है ‘आदिपुरुष’ अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन के साथ ही रिलीज की जाएगी.’

जब उनसे पूछा गया कि क्या आपने ‘द कश्मीर’ फाइल फिल्म देखी है तो उन्होंने कहा, वह प्रोपेगंडा फिल्में नहीं देखते हैं. उनके अनुसार ऐसी 15 फिल्मों पर काम चल रहा है

उन्होंने दिप्रिंट को दिए एक इंटरव्यू में बताया, ‘मैं प्रचारक फिल्में नहीं देखता हूं. वो प्रोडक्शन हाउस जो भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) या उसके सहयोगियों के साथ मिले हुए हैं, कुछ समय से इस तरह की फिल्में बनाने में लगे हुए है.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

वह बताते हैं, ‘पिछले चुनाव से पहले भी ऐसी कई फिल्में आईं थीं जिनमें ‘देशभक्ति’ के बारे में बात की गई. और साथ ही ये भी कि कैसे प्रधानमंत्री रात भर सोते नहीं हैं ये बताने के लिए कि पाकिस्तान पर हवाई हमला हो गया है या फिर जो भी था. वैसे मैंने उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक फिल्म देखी है’

तीन दशक पहले घाटी से कश्मीरी पंडितों के पलायन को दिखाने वाली फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ की भाजपा ने काफी प्रशंसा की और इसे कई राज्यों में टैक्स फ्री कर इसका प्रचार भी किया. पीएम नरेंद्र मोदी उन लोगों में शामिल हैं जिन्होंने फिल्म की सराहना की है. जबकि विपक्षी नेताओं ने इसे ‘घृणा भड़काने और इतिहास को विकृत करने’ वाली फिल्म बताया और इसकी आलोचना की.

45 साल के केटीआर तेलंगाना सरकार में नगरपालिका प्रशासन और आईटी मंत्री हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा ‘द कश्मीर फाइल्स’ का इस्तेमाल मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए किया जा रहा है। उस फिल्म ने अपनी रिलीज के बाद से 250 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की है.

उन्होंने कहा, ‘ये सभी फिल्में इसलिए बनाई गईं क्योंकि यह प्रचार तंत्र का काम कर रही हैं. देश के वास्तविक मुद्दों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. देश को यह समझने की जरूरत है कि दूसरी चीजों की तरफ ध्यान भटकाने के लिए भावनाओं के साथ खेला जा रहा है और ये सब चीजें की जा रही हैं.’

के.टी.आर, आई-पीएसी और प्रशांत किशोर

सीएम राव और के.टी.आर ने रविवार को प्रशांत किशोर से उनके आवास पर मुलाकात की थी.

किशोर I-PAC के संस्थापक सदस्यों में से हैं, लेकिन उनका दावा है कि वह अब फर्म के दिन-प्रतिदिन के मामलों में कोई भूमिका नहीं निभाते हैं.

के.टी.आर ने दिप्रिंट को यह भी बताया कि टीआरएस गुजरात में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के खिलाफ प्रचार करने पर विचार करेगी. यह ऐसे समय में है जब भाजपा तेलंगाना में प्रमुख विपक्षी दल के रूप में कांग्रेस की जगह लेने की स्थिति में है.

इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें : 13 पार्टियों के संयुक्त बयान ने KCR को अलग-थलग किया, विपक्षी एकता में विभाजन का हुआ खुलासा


 

share & View comments