scorecardresearch
Monday, 17 June, 2024
होमदेशकोरोना योद्धाओं पर सेना ने की फूलों की बारिश, भावुक हुए डॉक्टर और नर्स

कोरोना योद्धाओं पर सेना ने की फूलों की बारिश, भावुक हुए डॉक्टर और नर्स

इस कार्यक्रम की शुरुआत दिल्ली पुलिस मेमोरियल से हुई जहां सेना के तीनों दलों के प्रमुखों ने जहां शहीदों को श्रद्धांजलि दी वहीं, हेलीकॉप्टर उड़ान भरता हुआ दिल्ली के सफदरजंग, एम्स, जीटीबी, एलएनजेपी पर उड़ान भरी और कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में पुष्प वर्षा की. दिल्ली के अलावा देश के कोनों-कोनों से हेलीकॉप्टर्स द्वारा फूल बरसाते हुए वीडियो सामने आए.

Text Size:

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ रहे चिकित्सा क्षेत्र के योद्धाओं, नर्स और सफाई कर्मचारियों के सम्मान में रविवार को भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर्स द्वारा देशभर के अस्पतालों के ऊपर फूलों की बारिश की साथ ही देश में कई अस्पतालों के परिसर में सेना के बैंड ने उनके सम्मान में धुन भी बजाई. भारतीय वायुसेना ने इसके जरिए देश के योद्धाओं के प्रति आभार व्यक्त किया. इसी क्रम में लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यायल के प्रागंण में डॉक्टरों, नर्सों और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ पर गुलाब के फूलों की बारिश की गई. देशभर के कोरोना योद्धाओं का ऐसा सम्मान देखकर सभी भावुक हो गए.

दिल्ली से शुरू हुए इस कार्यक्रम की शुरुआत दिल्ली पुलिस मेमोरियल से हुई जहां सेना के तीनों दलों के प्रमुखों ने जहां शहीदों को श्रद्धांजलि दी वहीं, हेलीकॉप्टर उड़ान भरता हुआ दिल्ली के सफदरजंग, एम्स, जीटीबी, एलएनजेपी पर उड़ान भरी और कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में पुष्प वर्षा की. दिल्ली के अलावा देश के कोनों-कोनों से हेलीकॉप्टर्स द्वारा फूल बरसाते हुए वीडियो सामने आए. जम्मू-कश्मीर से लेकर तेलंगाना, बंगलूरू, पश्चिम बंगाल, ओडिशा सहित देश के लगभग सभी राज्यों के कोरोना वॉरियर्स के प्रति सेना ने सम्मान प्रकट किया. अपनी तरह का सेना द्वारा दिया गया कुछ अलग तरह का सम्मान था.  सोशल मीडिया पर सेना के इस कदम की तारीफ हो रही है वहीं कुछ सेना के ही अधिकारी इस काम का विरोध भी कर रहे हैं.

जैसे एक रिटायर्ड नेवी चीफ अरुण प्रकाश ने ट्वीट कर कहा, ‘हमारी मिलिटरी का इस्तेमाल मीनिंगफुल तरीकों से किया जा सकता था. साथ ही भूखे मर रहे प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने का काम भी किया जा सकता था. लेकिन इन हेलीकॉप्टर्स को केवल सिर्फ फूल बरसाने के लिए इस्तेमाल लायक समझा जा रहा है तो ठीक है.’

https://twitter.com/arunp2810/status/1256569370697924609?s=20

उनकी पोस्ट पर कई तरह के कमेंट्स आए. किसी ने सरकार के इस फैसले की तारीफ की है तो किसी ने आलोचना.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इस दौरान केजीएमयू प्रशासनिक भवन के सामने प्रागंण में विश्वविद्यालय के डॉक्टर, नर्स और बाकी मेडिकल स्टाफ इकट्ठा हुए थे.  करीब सवा दस बजे हेलीकॉप्टर ने प्रागंण के दो चक्कर लगाकर उन पर गुलाब के फूल बरसाए. नीचे मैदान में खड़े डॉक्टरों और अन्य पैरामेडिकल स्टाफ ने तालियां बजाकर और भारत माता की जय का नारा लगाकर कर अपनी खुशी जाहिर की.

केजीएमयू में कोरोना के विरूद्ध युद्ध में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली कोरोना योद्धा डॉ. तूलिका चंद्रा इस पर कहती हैं, ‘यह एक भावुक और दिल को छू लेने वाला दृश्य था. इतना सम्मान देखकर हमारी आंखो में आंसू थे. हम 18 घंटे से अधिक समय अपनी प्रयोगशाला में बिताते हैं लेकिन आज इस सम्मान से सारी थकान दूर हो गई और उत्साह कई गुना बढ़ गया.’

केजीएमयू के एक अन्य वरिष्ठ सर्जन और प्रवक्ता डॉ. संदीप तिवारी बताते हैं, ‘जब हम पर सेना के हेलीकॉप्टर फूल बरसा रहे थे तब वह बहुत ही सम्मान भरा वक्त लग रहा था. इस सम्मान से हम अभिभूत हैं. अब हम दोगुने जोश से कोविड-19 के मरीजों की सेवा में दिन-रात एक कर देंगे. वैसे पहले भी हम कोरोना रोगियों के इलाज में कोई कोर कसर नही छोड़ रहे थे लेकिन इस सम्मान से हौसला बढ़ गया है.

तेलांगाना के गांधी अस्पताल को कोविड-19 के मरीजों के लिए डेडिकेट किया गया है. इस अस्पताल के ऊपर सुबह करीब साढ़े दस बजे चेतक हेलीकॉप्टर मंडराता नजर आया. जिसके बाद वहां के डॉक्टरों, नर्सों और सफाईकर्मियों व पुलिसकर्मियों पर फूल बरसाए जाने लगे. कोविड-19 इन योद्धाओं ने अपने अपने-अपने मोबाइल फोन से इस अद्भुत नजारे की तस्वीरें और वीडियो बनाए तो बाकियों ने तालियां बजाईं.

देश की राजधानी दिल्ली में भी अस्पतालों के ऊपर फूलों की बारिश की गई. दिल्ली में इस कार्यकर्म की शुरुआत पुलिस वॉर मेमोरियल में सलामी देते की गई. उसके बाद एम्स और सफदरजंग अस्पतालों भारतीय वायुसेना द्वारा फूल बरसाए गए. इसके अलावा एलएनजेपी, जीटीबी और राजीव गांधी अस्पतालों में भी देश की सेना ने कोरोना योद्धाओं के प्रति सम्मान दिखाया.

share & View comments