Monday, 23 May, 2022
होमहेल्थब्रिटेन के रिसर्चर नए तरीके से विकसित कर रहे कोविड-19 के लिए वैक्सीन

ब्रिटेन के रिसर्चर नए तरीके से विकसित कर रहे कोविड-19 के लिए वैक्सीन

इस अनुसंधान परियोजना से कोविड-19 के नए स्वरूपों तथा भविष्य की महामारियों का सामना करने के लिए तेजी से नए टीके विकसित करने की ब्रिटेन तथा दुनिया की क्षमता बढ़ेगी.

Text Size:

लंदन: ब्रिटेन में अनुसंधानकर्ता कोविड-19 और कई अन्य बीमारियों के खिलाफ एमआरएनए टीके तथा दवाएं तेजी से विकसित करने तथा बड़े पैमाने पर उनके उत्पादन के लिए नए तरीके अपना रहे हैं.

इस अनुसंधान परियोजना से कोविड-19 के नए स्वरूपों तथा भविष्य की महामारियों का सामना करने के लिए तेजी से नए टीके विकसित करने की ब्रिटेन तथा दुनिया की क्षमता बढ़ेगी.

शेफील्ड विश्वविद्यालय ने रविवार को एक बयान में कहा कि नयी उत्पादन तकनीक से दवा निर्माता कैंसर, चयापचयी विकार, हृदय संबंधी बीमारियों और स्वप्रतिरक्षित रोगों जैसी अन्य बड़ी बीमारियों के इलाज तथा नए टीके विकसित करने के लिए आवश्यक आधुनिक प्रक्रिया तक अधिक तेजी से पहुंच सकेंगे.

विश्वविद्यालय के रसायन और जैविक इंजीनियरिंग विभाग के मुख्य अनुसंधानकर्ता जोल्टन किस ने कहा, ‘कोविड-19 के लिए बने टीकों ने हमें दिखाया कि आरएनए तकनीक का इस्तेमाल कर क्या किया जा सकता है. हमारी पीढ़ी की बड़ी वैज्ञानिक उपलब्धियों में से एक आरएनए (राइबोन्यूक्लिक एसिड) तकनीक ने किसी टीके को वर्षों के बजाय महीनों में बनाने की क्षमता को दिखाया है.’

किस ने कहा, ‘यह एक बहुमुखी और परिवर्तनकारी तकनीक है जिसका इस्तेमाल अन्य बीमारियों के लिए टीके तथा इलाज विकसित करने के वास्ते किया जा सकता है. इसके लिए हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि दुनिया भर के अनुसंधानकर्ताओं की बेहद आधुनिक आरएनए विनिर्माण प्रक्रिया तक पहुंच हो.’


यह भी पढ़ेंः कोविड की एक और लहर, सरकारों के पास ‘खर्च करने की बहुत कम गुंजाइश’ छोड़ेगी : IMF की गीता गोपीनाथ


 

share & View comments