scorecardresearch
Sunday, 21 July, 2024
होमहेल्थलौट रहा कोरोना का खतरा? बंगाल, हिमाचल और पंजाब समेत देश के कई स्कूलों में स्टूडेंट्स हुए कोविड पॉजिटिव

लौट रहा कोरोना का खतरा? बंगाल, हिमाचल और पंजाब समेत देश के कई स्कूलों में स्टूडेंट्स हुए कोविड पॉजिटिव

देशभर में ओमीक्रॉन के मामलों की संख्या बढ़ रही है. हिमाचल, पश्चिम बंगाल और पंजाब समेत कई राज्यों में स्कूल के बच्चों में कोरोना के मामले पाए जा रहे हैं, जिससे देश में एक बार फिर कोरोना का डर पैदा हो गया है.

Text Size:

नई दिल्ली: कोरोना की दो लहरों से जूझने के बाद भारत की स्वास्थ्य व्यवस्था अभी ठीक से खड़ी भी नहीं हो पाई थी कि अब ओमीक्रॉन वैरिएंट नाम का एक बड़ा खतरा उसके सामने एक चुनौती की तरह खड़ा है. देशभर में ओमीक्रॉन के मामलों की संख्या बढ़ रही है. इसके अलावा कोरोना का खतरा भी अब दोबारा लौटता दिख रहा है. हिमाचल, पश्चिम बंगाल और पंजाब समेत कई राज्यों में स्कूल के बच्चों में कोरोना के मामले पाए जा रहे हैं, जिससे देश में एक बार फिर कोरोना का डर पैदा हो गया है.

पश्चिम बंगाल में 29 स्टूडेंड पॉजीटिव 

पश्चिम बंगाल के नदिया जिले के एक आवासीय स्कूल के कम से कम 29 छात्रों में कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हुई है. एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय, कल्याणी के नौंवी और 10वीं कक्षा के 29 छात्र कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और छात्रों के अभिभावकों को उन्हें घर ले जाने के लिए सूचित किया गया है. संक्रमित छात्रों को गृह पृथक-वास की सलाह दी गई है, क्योंकि उनमें खांसी और सर्दी के लक्षण थे.

हिमाचल में 23 बच्चे संक्रमित

राजकीय उच्च पाठशाला देलग में बुधवार को 50 बच्चों के कोरोना सैंपल लिए गए थे. जिसमें 23 बच्चों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. प्राथमिक पाठशाला के 70 और बच्चों के सैंपल भी लिए गए हैं, जिनकी रिपोर्ट आना बाकी है. जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण चौधरी ने बताया कि अब सभी स्कूलों में बच्चों के कोरोना टेस्ट किए जा रहे हैं.

पंजाब में 25 बच्चे कोरोना की चपेट में

पंजाब में भी बच्चे कोरोना की चपेट में आ गए हैं. तीन अलग-अलग स्कूलों में से 25 स्टूडेंट्स कोरोना पॉजिटिव पाए गए है. खुरला किंगरा सरकारी स्कूल में सोमवार को दो स्टूडेंट और इससे पहले एक स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे.

शिक्षक और कर्मचारियों में भी संक्रमण 

सरकार ने बुधवार को कहा कि केंद्रीय विद्यालयों, जवाहर नवोदय विद्यालयों और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के कुल 327 शिक्षण तथा गैर-शिक्षण कर्मियों की कोविड-19 के कारण मौत हो गयी. लेकिन उनमें से किसी भी शिक्षक की मौत कोविड ड्यूटी के दौरान नहीं हुई.

केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष सरकार ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि उपलब्घ आंकड़ों के अनुसार केंद्रीय विद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के 327 शिक्षण एवं गैर-शिक्षण कर्मचारियों की कोविड-19 के कारण मृत्यु हुयी. उन्होंने कहा कि इनमें से किसी भी शिक्षक की मृत्यु कोविड ड्यूटी के दौरान नहीं हुयी.

उन्होंने कहा कि शिक्षा संविधान की समवर्ती सूची का विषय है और केंद्र सरकार के स्वामित्व वाले व वित्तपोषित स्कूलों को छोड़कर, अन्‍य सभी स्कूल राज्य सरकारों के क्षेत्राधिकार के तहत आते हैं.


यह भी पढ़ें-महाराष्ट्र, दिल्ली समेत 16 राज्यों में ओमीक्रॉन फैला, देश में अब तक 236 मामले


 

share & View comments