scorecardresearch
Wednesday, 24 July, 2024
होमहेल्थ1 के क़रीब पहुंची भारत की R वैल्यू, केरल और उत्तर-पूर्वी राज्यों से आ रहा Covid मामलों में उछाल

1 के क़रीब पहुंची भारत की R वैल्यू, केरल और उत्तर-पूर्वी राज्यों से आ रहा Covid मामलों में उछाल

महाराष्ट्र और उत्तराखंड से भी R वैल्यू में बढ़ोतरी हुई है. बड़े शहरों में दिल्ली की R 1 के क़रीब है, जबकि पुणे की R वैल्यू 1 से अधिक है.

Text Size:

नई दिल्ली: इस सप्ताह भारत की आर-वैल्यू और बढ़ गई है और अब ये 1 के बहुत क़रीब पहुंच गई है- ऐसी स्थिति जिससे एक बार फिर एक्टिव मामलों में बढ़ोत्तरी हो सकती है.

पिछले कुछ हफ्तों से आर-वैल्यू में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है. पिछले हफ्ते ये 0.97 थी.

आर या ‘प्रभावी रिप्रोडक्शन नंबर’ एक अनुमान होता है कि संक्रमण कितनी तेज़ी से फैल रहा है. इस संख्या से पता चलता है कि औसतन कितने लोगों के, एक कोविड पॉज़िटिव व्यक्ति से संक्रमित होने की संभावना होती है. महामारी के ख़त्म होने के लिए, आर को 1 से नीचे बनाए रखना होता है.

गणितीय विज्ञान संस्थान के एक रिसर्चर सीताभ्र सिन्हा ने, जो महामारी की शुरुआत से ही आर वैल्यू पर नज़र बनाए हुए हैं, दिप्रिंट को बताया, ‘फिलहाल भारत में कुल एक्टिव मामलों की संख्या में बहुत उतार-चढ़ाव हो रहे हैं, इसलिए विश्वसनीय अनुमान लगाना मुश्किल है, लेकिन आंकड़े ऐसी वैल्यू की ओर इंगित कर रहे हैं जो 1 के क़रीब है. आने वाले कुछ दिनों में ये किसी भी तरफ झुक सकती है’.

यदि वैल्यू 1 के ज़्यादा क़रीब हो, तो आर वैल्यू के अंदाज़े का सिन्हा का मॉडल, बहुत मज़बूत अनुमान नहीं लगा सकता. इस हफ्ते भारत के कई सूबे उसी नाज़ुक बिंदु पर हैं.


यह भी पढ़ें: 2020 में Covid के चलते भारत में लाखों बच्चों के छूट गए होंगे नियमित टीके : WHO


R value for India
रमनदीप कौर का चित्रण | दिप्रिंट

केरल की स्थिति सबसे चिंताजनक है, जहां इस समय एक्टिव मामलों की संख्या सबसे अधिक हैं. सूबे की आर पिछले सप्ताह के बराबर ही 1.11 बनी हुई है. सिन्हा के अनुसार, इसका अर्थ है कि अगले दो हफ्तों तक (एक्टिव मामलों में) केरल संभवत: शीर्ष पर बना रहेगा.

सिन्हा ने कहा कि उत्तराखंड दूसरा चिंताजनक राज्य है, जहां की आर वैल्यू पिछले सप्ताह के 0.95 से बढ़कर, इस सप्ताह 1 के क़रीब पहुंच गई.

इस बीच, महाराष्ट्र की आर वैल्यू का अनुमान अभी भी 1 से नीचे है, लेकिन ये पिछले हफ्ते के 0.90 से बढ़कर, इस हफ्ते 1 के बहुत क़रीब पहुंच गई है.

R value for states
भारत का आर वैल्यू | दिप्रिंट

उत्तर-पूर्वी राज्यों की R वैल्यू

उत्तर-पूर्व के अधिकतर सूबों की आर वैल्यू 1 से ऊपर है.

सिन्हा ने कहा, ‘उत्तर-पूर्व की स्थिति गंभीर बनी हुई है, जहां ज़्यादातर सूबों की आर एक से अधिक है’.

त्रिपुरा की आर वैल्यू 1 से कम है. सूबे की आर पिछले सप्ताह की 1.17 से कम हुई है. इसी तरह मणिपुर में, जहां पिछले हफ्ते आर 1.24 थी, अब ये 0.98 है.

मेघालय की आर पिछले हफ्ते के 1.08 से बढ़कर, इस हफ्ते 1.17 हो गई.

सिक्किम की आर पिछले हफ्ते के 1.2 से घटकर इस हफ्ते 1.17 पर आ गई, जबकि नागालैण्ड की आर पिछले हफ्ते के 1.1 से घटकर, इस हफ्ते 1.09 हो गई और मिज़ोरम की आर 1.27 ही बनी हुई है जो पिछले हफ्ते भी थी.

मुख्य शहर

R value for cities
रमनदीप कौर का चित्रण | दिप्रिंट

बड़े शहरों में दिल्ली की R वैल्यू 1 के बहुत क़रीब है. दिल्ली में 25 मई के बाद से आर वैल्यू निरंतर बढ़ रही है जब ये 0.43 थी. पिछले हफ्ते दिल्ली की आर बढ़कर 0.84 हो गई थी, जो उससे पहले के सप्ताह में 0.66 थी.

पुणे की R वैल्यू 1 से अधिक है. लेकिन सभी अन्य शहरों की आर 1 से कम है. बेंगलुरू की आर 0.72 है, चेन्नई की 0.94 है और कोलकाता की 0.86 है. इस बीच, मुम्बई की आर 0.74 है.

(इस ख़बर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ें: हैजे का नया टीका- GM राइस से बने ‘ड्रिंक’ के पहले चरण के ह्यूमन ट्रायल को मंजूरी: लांसेट स्टडी


 

share & View comments