scorecardresearch
Thursday, 18 July, 2024
होमचुनावराजस्थान जोरदार चुनावी लड़ाई के लिए तैयार- PM Modi ने किए रोड शो, तो कांग्रेस ने दी 7 गारंटी

राजस्थान जोरदार चुनावी लड़ाई के लिए तैयार- PM Modi ने किए रोड शो, तो कांग्रेस ने दी 7 गारंटी

प्रधानमंत्री ने राजस्थान में जहां भ्रष्टाचार और महिलाओं के खिलाफ अपराध के मुद्दे को उठाया तो वहीं कांग्रेस ने अपनी 7 गारंटी पर फोकस किया.

Text Size:

जयपुर (राजस्थान) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान में भ्रष्टाचार और महिलाओं के खिलाफ अपराध के मुद्दे पर रोड शो किए और अपनी रैलियों में कांग्रेस पर निशाना साधा. जबकि कांग्रेस के प्रमुख प्रचारकों ने राज्य में सत्ता बरकरार रखने के लिए मतदाताओं को लुभाने के लिए गारंटीज पर ध्यान केंद्रित किया.

राजस्थान में 25 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक पार्टियां कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं.

पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राजस्थान के बीकानेर में पार्टी की लोकप्रियता प्रदर्शित करते हुए रोड शो किया.

दिवाली, जो अंधकार पर प्रकाश का प्रतीक है, की तुलना इस सप्ताह राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव से करते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे ‘लोकतंत्र की दिवाली’ कहा और लोगों से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि कांग्रेस पार्टी हर कोने से बाहर हो जाए.

पीएम मोदी ने कहा, “आप मुझे बताएं, क्या कांग्रेस, जिसे आपकी जान की परवाह नहीं है, को एक दिन भी सत्ता में रहने का अधिकार है? दिवाली अभी बीती है. हमारी माताएं और बहनें घर पर 15-16 घंटे काम करती हैं. लेकिन जब दिवाली आती है, घर का कोना-कोना भी साफ कर देती हैं. ये चुनाव लोकतंत्र की दिवाली भी है. कांग्रेस को ऐसे मिटाएं कि ये कांग्रेस किसी कोने में भी न बचे.”

उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में यहां राजस्थान में जो कुछ हुआ, उसकी पूरी कहानी ‘रेड डायरी’ में लिखी है. उन्होंने कहा, “डायरी लाल है. (लेकिन) कर्म काले हैं.”

राजस्थान के पाली जिले में पीएम मोदी ने राज्य में महिलाओं के खिलाफ अपराधों के संबंध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की टिप्पणी पर उन पर जमकर निशाना साधा.


यह भी पढ़ें : IIT के एलुमनाई पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं, लेकिन वे दर्शन सोलंकी, आशना आघात के प्रति उदासीन हैं


पीएम मोदी ने कहा, “कांग्रेस ने राजस्थान को महिलाओं के खिलाफ अपराधों में नंबर 1 बना दिया है. सीएम कहते हैं कि महिलाओं द्वारा दर्ज की गई शिकायतें फर्जी हैं. क्या कभी ऐसा हो सकता है कि हमारे देश में कोई महिला फर्जी मामला दर्ज कराए? सीएम को कहना चाहिए कि जांच चल रही है. और ऐसा नहीं है कि दर्ज किए गए मामले फर्जी हैं. क्या यह महिलाओं का अपमान नहीं है?”

सबसे पुरानी पार्टी के खिलाफ अपना हमला जारी रखते हुए उन्होंने कहा, “कांग्रेस के लिए भ्रष्टाचार और पारिवारवाद की राजनीति से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ भी नहीं है. यह पार्टी तुष्टीकरण की राजनीति के अलावा कुछ भी नहीं सोचती.”

पीएम मोदी ने आरोप लगाया, ”दुर्भाग्य से, कांग्रेस के 5 साल के शासन में राज्य का विकास रुक गया.”

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी, जिन्होंने राजस्थान के शाहपुरा में एक रोड शो किया. उन्होंने बताया, “कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के रोड शो में दिलचस्पी दिखाई, इससे पता चलता है कि राजस्थान में बीजेपी की लहर है. कांग्रेस कार्यकर्ता भी ‘मोदी, मोदी’ के नारे लगा रहे हैं. यह दिखाता है कि मोदी का जादू कैसे काम कर रहा है. यह कोई भीड़ नहीं है; ये नागरिक हैं जिन्होंने भाजपा सरकार बनाने का फैसला किया है. सुविधा की राजनीति… सवाल है कि महिला कांग्रेस नेतृत्व ऐसे मुद्दों पर चुप क्यों रहता है.”

केकड़ी में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सचिन पायलट ने कहा, ”इस हफ्ते आपको (लोगों को) अगले 5 साल के लिए अपना भविष्य तय करना है. बीजेपी पिछले 10 साल से केंद्र में है. मध्यवर्गीय समाज, कृषक समुदाय और खासकर कम आय वाले किसान भाजपा के शासन में पीड़ित हैं.”

सचिन पायलट ने आगे कहा कि जनता के मुद्दों पर हर जायज सवाल का बीजेपी धार्मिक आधार पर जवाब देने को तैयार रहती है.

उन्होंने कहा, “वे (भाजपा) अग्निवीर योजना लाकर सेना का भविष्य नष्ट कर दिए, उन्होंने किसानों के लिए तीन काले कानून लाए, जब हम उनसे पूछते हैं कि आपने ऐसा क्यों किया? तो वे कहते हैं ‘मंदिर-मस्जिद’. हर मुद्दे पर जब हम सवाल पूछते हैं, तो बीजेपी हिंदू-मुस्लिम एंगल लाती है.”

कांग्रेस पार्टी प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे ने सोमवार को राज्य में कांग्रेस के घोषणापत्र के हिस्से के तौर पर राजस्थान की प्रगति और समृद्धि के लिए समर्पित आर्थिक सशक्तीकरण के लिए सात गारंटियों की घोषणा की.

राजस्थान के अनूपगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए पार्टी प्रमुख ने कहा कि कांग्रेस राजस्थान की प्रगति और समृद्धि के लिए पूरी तरह समर्पित है.

खरगे ने कहा, “कांग्रेस पार्टी की सामाजिक न्याय योजनाएं और आर्थिक सशक्तीकरण की सात गारंटी राजस्थान में असमानता को खत्म करने वाली हैं और राजस्थान को और अधिक समृद्ध बनाएंगी.”

खरगे ने आगे बताया कि राजस्थान के लिए कांग्रेस पार्टी के गारंटी घोषणा पत्र में गृह लक्ष्मी योजना के तहत परिवार की महिला मुखिया को हर साल 10,000 रुपये देना, गौधन गारंटी के तहत 2 रुपये किलो गोबर की खरीद और सरकारी कॉलेज में आने वाले पहले साल के छात्रों को मुफ्त लैपटॉप और टैबलेट देना शामिल है.

राजस्थान में 25 नवंबर को मतदान होगा और वोटों की गिनती अन्य चार राज्यों मिजोरम, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के साथ 3 दिसंबर को होगी.

2018 के विधानसभा चुनावों में, कांग्रेस ने 99 सीटें जीतीं, जबकि भाजपा ने 200 सदस्यीय सदन में 73 सीटें जीती थी. आखिरकार बसपा विधायकों और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से गहलोत ने सीएम पद की शपथ ली.


यह भी पढ़ें : UPSC कोचिंग संस्थानों के लिए आएगी एडवाइजरी, सरकार ने एलबीएसएनएए LBSNAA को लिखा पत्र


 

share & View comments