scorecardresearch
Saturday, 22 June, 2024
होमदेशराम आएंगे तो अंगना सजाऊंगी...कौन हैं भजन गायिका स्वाति मिश्रा, जिनकी आवाज़ पर PM मोदी हैं 'मंत्रमुग्ध'

राम आएंगे तो अंगना सजाऊंगी…कौन हैं भजन गायिका स्वाति मिश्रा, जिनकी आवाज़ पर PM मोदी हैं ‘मंत्रमुग्ध’

बिहार के छपरा की रहने वाली स्वाति ने उत्तरी अमेरिका की एमोरी यूनिवर्सिटी से पब्लिक हेल्थ में मास्टर्स और बायोलॉजी में बैचलर्स डिग्री हासिल की है. वह सिर्फ अच्छी गायिका ही नहीं हैं बल्कि कीबोर्ड और तबला बजाने में भी हैं माहिर.

Text Size:

नई दिल्ली: ‘मेरी झोपड़ी के भाग, आज खुल जाएंगे, राम आएंगे, राम आएंगे… राम आएंगे तो, अंगना सजाऊंगी...’, ये हाल ही में फेमस हुआ एक ऐसा भजन है जिसे शायद ही कोई होगा, जिसने ना गुनगुनाया हो. सिंगर स्वाति मिश्रा ने लगभग 2 महीने पहले अपने यूट्यूब चैनल पर ये गाना पोस्ट किया था, जिसे अबतक 43 मिलियन से ज्यादा बार देखा जा चुका है और इसपर हज़ारों रील्स भी बनाई जा चुकी हैं.

स्वाति द्वारा गाए इस भजन पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मंत्रमुग्ध हो चुके हैं. उन्होंने इस भजन का वीडियो शेयर करते हुए अपने सोशल मीडिया हैंडल एक्स पर लिखा, “श्री राम लला के स्वागत में स्वाति मिश्रा जी का भक्ति से भरा यह भजन मंत्रमुग्ध करने वाला है…”

स्वाति द्वारा गाया हुआ ये ‘राम आएंगे’ भजन दीवाली से पहले नवरात्रों के दौरान गाया था. और राम मंदिर के उद्घाटन से पहले इस कदर फेमस हुआ कि देश के पीएम ने भी इसकी तारीफ कर ही दी है.

बता दें कि राम मंदिर में भगवान राम के बाल स्वरूप प्रतिमा 22 जनवरी को स्थापित किए जाएंगे जिसके लिए जोर शोर से देशभर में तैयारी चल रही है. फिलहाल मंदिर का पहला तल तैयार हो गया है वहीं मंदिर के निर्माण से जुड़े लोगों का कहना है कि 2025 तक मंदिर पूरी तरह तैयार हो जाएगा.

मिश्रा ने हाल ही में कहा कि वह 22 जनवरी को राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में जाकर एक भजन गाना चाहती हैं. बता दें कि उन्होंने हाल ही में एक और भजन ‘राम आए हैं‘ अपने यूट्यूब चैनल पर पोस्ट करते हुए कहा कि “मेरे पहले भजन राम आएंगे को इतना प्यार और सराहना मिला, इसलिए राम मंदिर के उद्घाटन को देखते हुए अब मैंने ‘राम आए हैं’ भजन गाया हैं.

कौन हैं स्वाति मिश्रा

स्वाति मिश्रा बिहार के छपरा की रहने वाली हैं और फिलहाल वह मुंबई में रहती हैं. ‘राम आएंगे’ के अलावा उनके कई भजन और कवर सॉन्ग्स भी पॉपुलर हो चुके हैं. स्वाति ने भोजपुरी भाषा में भी कई गाने गए हैं.

उत्तरी अमेरिकी बॉलीवुड में पली स्वाति मिश्रा सिर्फ बेहतरीन गायिका ही नहीं बल्कि कीबोर्डिस्ट आर्टिस्ट और ‘तबला’ वादक भी हैं. उन्होंने 7 साल की उम्र में संगीत वाद्ययंत्र बजाना शुरू कर दिया था और वह भारतीय रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल का हिस्सा भी रह चुकी है.

स्वाति ने कहा कि उन्हें खुद – ग़ज़ल उस्ताद जगजीत सिंह बहुत पसंद हैं.

हालांकि उन्होंने प्रतिष्ठित एमोरी यूनिवर्सिटी से पब्लिक हेल्थ में मास्टर डिग्री और बायोलॉजी में बैचलर्स डिग्री हासिल की है. संगीत के प्रति स्वाति के जुनून ने उन्हें संगीत में अपना करियर बनाने के लिए मजबूर कर दिया. और वह अब एक पेशेवर गायिका, कलाकार और रिकॉर्डिंग आर्टिस्ट हैं.

पीएम के ट्वीट को लेकर प्रतिक्रिया के लिए स्वाति मिश्रा को व्हाट्सऐप और ई-मेल के जरिये मैसेज किया गया है, प्रतिक्रिया मिलने पर स्टोरी को अपडेट किया जाएगा.


यह भी पढ़ें: ‘हनुमान ड्रामा’ को ग्लोबल बनाने का मकसद, संस्कृत को दुनिया भर में पहुंचाना है


‘राम आएंगे’ ने बहुत कुछ दिया

अपने एक इंटरव्यू में स्वाति ने बताया कि ‘राम आएंगे’ भजन को लोगों ने बहुत ज्यादा पसंद किया और प्यार दिया है. जिसके बाद उन्हें जीवन में ऐसा बहुत कुछ हासिल हुआ जो शायद पहले नहीं मिला था. उन्होंने कहा कि ‘जब हमने गाना बनाया था तो लगा नहीं था कि यह इतना वायरल हो जाएगा.’

इंटरव्यू में स्वाति ने आगे ये भी कहा कि भोजपुरी में बहुत सारे गाने और भजन गाने के बाद भी वह कभी भी किसी अश्लील भोजपुरी गाने का हिस्सा न तो रही है और न ही कभी गाएंगी.

मिश्रा के यूट्यूब चैनल पर तीन लाख से भी ज्यादा सब्सक्राइबर्स हैं और उनके इंस्टाग्राम पर 742k फॉलोवर्स हैं. जबकि फेसबुक पर 907 K फॉलोअर्स हैं.

स्वाति के राम आएंगे भजन पर बीस हज़ार से भी ज्यादा लोगों ने कॉमेंट किया है और उनकी सराहना की है.

एक व्यूअर सिडवीडियोस्टुडिओ ने यूट्यूब पर लिखा, “हृदय को कितना सुख प्रदान करने वाला भजन है, बहुत ही सुंदर आवाज”.

राम आएंगे के अलावा स्वाति बॉलीवुड के कई गानों का रीमिक्स गाया है. उन्होंने मेरा आपकी कृपा से, कहे तोसे सजना, रफ्ता-रफ्ता, बेदर्दिया जैसे कई गाने गाए हैं.

मिश्रा ने बताया कि उन्होंने प्रेम भूषण महाराज को ये भजन गाते हुए सुना था और तभी उन्हें इस भजन को अपने आवाज़ और अंदाज़ के गाने का विचार आया.

एक अन्य यूज़र ने यूट्यूब में लिखा, “वास्तव में मैं मुस्लिम हूं लेकिन यह भजन सुनकर मुझे बहुत ही सुकून मिलता है.”

यूट्यूब पर अपने पहले गाने का वीडियो अपलोड करने के 6 महीने के अंदर ही, स्वाति का चैनल पूरे भारत में #7 सबसे ज्यादा देखा जाने वाला और #54 सबसे ज्यादा सब्सक्राइब किया जाने वाला चैनल बन गया था. अपने “फ़ज़ा भी है जवां जवां” के ग़ज़ल कवर फेमस मिश्रा इसमें ‘तबला’ बजाती हुई दिखाई देती हैं.

इस भजन को लिखा है?

बता दें कि इस भजन को लिखने वाले और कोई नहीं बॉलीवुड के सबसे चर्चित स्क्रिप्ट राइटर, लेखक और लिरिसिस्ट मनोज मुंतशिर हैं. उन्होंने दिसंबर में एक पोस्ट लिखते हुए लिखा, “श्रद्धा और भक्ति से प्रेम और पीड़ा तक, 2023 में हर भावना के गीत मेरी क़लम से बहे!मां शारदा को नमन और आप सभी सुनने वालों को आभार.”


यह भी पढ़ें: विश्वास नहीं होता Deepfake is Real: 99% महिलाओं को बना रहा है शिकार


share & View comments