scorecardresearch
Friday, 1 March, 2024
होम50 शब्दों में मतहीनता का टर्म 'ग्लोबल साउथ' G20 के साथ वापस आ गया है, विचार का यह इंदिरा-करण दुर्भाग्यपूर्ण है

हीनता का टर्म ‘ग्लोबल साउथ’ G20 के साथ वापस आ गया है, विचार का यह इंदिरा-करण दुर्भाग्यपूर्ण है

दिप्रिंट का महत्वपूर्ण मामलों पर 50 शब्दों में मत.

Text Size:

जी20 की तैयारियों के साथ भारत में पुराने, हीनता पैदा करने वाला शब्द ‘ग्लोबल साउथ’ की दुर्भाग्यपूर्ण वापसी हुई है. इसमें तीसरे वर्ल्डिज्म की बू आती है. भारत की उतार-चढ़ाव वाली आर्थिक वृद्धि के दौरान यह दो दशकों से निर्वासित था. पर अब एक बार फिर भौगोलिक निर्माण राष्ट्रों की नियति तय कर रहा. यह विचार का इंदिराकरण है.

share & View comments