Saturday, 21 May, 2022
होम50 शब्दों में मतआर्थिक सर्वेक्षण में आशावादी होना अच्छा पर स्पष्ट तौर पर रोजगार और प्रवासी संकट को नजरअंदाज करता है

आर्थिक सर्वेक्षण में आशावादी होना अच्छा पर स्पष्ट तौर पर रोजगार और प्रवासी संकट को नजरअंदाज करता है

दिप्रिंट का महत्वपूर्ण मामलों पर सबसे तेज नजरिया.

Text Size:

एक संकटकालीन वर्ष के बाद आर्थिक सर्वेक्षण 2021 में भारतीय अर्थव्यवस्था के उबरने और विकास की संभावनाओं को लेकर काफी उम्मीदें जताई गई हैं. यद्यपि आशावादी होना अच्छा है और इसकी बहुत ज्यादा जरूरत भी है, लेकिन सर्वे में स्पष्ट तौर पर प्रवासी और रोजगार संकट को नजरअंदाज किया गया है. भारत स्थितियों को बदलने में कितना सक्षम होगा, यह वित्तीय क्षेत्र के गंभीर संकटों के समाधान पर निर्भर करता है.

share & View comments