Thursday, 26 May, 2022
होम50 शब्दों में मतभाजपा ने साध्वी प्रज्ञा को चुनाव में उतारकर यह सिद्ध कर दिया है कि वोटर्स की परवाह नहीं है

भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा को चुनाव में उतारकर यह सिद्ध कर दिया है कि वोटर्स की परवाह नहीं है

दिप्रिंट का महत्वपूर्ण मामलों पर सबसे तेज़ नज़रिया.

Text Size:

मालेगांव मामले में आरोपी साध्वी प्रज्ञा को भोपाल से भाजपा का अपना उम्मीदवार घोषित करना भयावह है. इससे यह पता चलता है कि भाजपा संस्थानों और राजनीतिक नैतिकता को ताक पर रखकर किसी प्रकार से सत्ता में वापस लौटना चाहती है. भाजपा का ‘पार्टी विद ए डिफरेंस’ का टैग अब इतिहास है.

निर्मला सीतारमण की टिप्पणी भारत के लिए शर्मनाक है

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान के बयान के पीछे कांग्रेस का हाथ बताया है. अपनी पार्टी के पाकिस्तान के खिलाफ अभियान को फिर से सुधारने का एक हास्यास्पद प्रयास है. भारत जैसे बड़े देश को पाकिस्तान को राष्ट्रीय चुनाव के केंद्र में लाना शर्मनाक है.

share & View comments