Tuesday, 25 January, 2022
होम50 शब्दों में मतवांग यी के बयान से ज्यादा भारत को नए द्वीप राष्ट्रों के फोरम के प्रस्ताव की चिंता होनी चाहिए

वांग यी के बयान से ज्यादा भारत को नए द्वीप राष्ट्रों के फोरम के प्रस्ताव की चिंता होनी चाहिए

दिप्रिंट का 50 शब्दों में सबसे तेज़ नज़रिया.

Text Size:

चीन के विदेश मंत्री वांग यी का बयान कि चीन-श्रीलंका संबंधों में ‘तीसरी पार्टी’ को दखलअंदाजी नहीं करनी चाहिए, काफी समृद्ध है क्योंकि भारत के पड़ोसियों के साथ बीजिंग ऐसा ही करता आया है लेकिन दिल्ली को उसके हिंद महासागर द्वीप राष्ट्रों के फोरम के प्रस्ताव के बारे में चिंता करनी चाहिए जिससे एक और द्वार खुलता है.

share & View comments