scorecardresearch
Sunday, 14 July, 2024
होम50 शब्दों में मतअमेरिकी सीनेटर की लोकतांत्रिक मूल्यों को लेकर दबाव भारत को दोस्तों के बीच बातचीत की तरह लेना चाहिए

अमेरिकी सीनेटर की लोकतांत्रिक मूल्यों को लेकर दबाव भारत को दोस्तों के बीच बातचीत की तरह लेना चाहिए

दिप्रिंट का 50 शब्दों में सबसे तेज़ नज़रिया

Text Size:

शीर्ष अमेरिकी सीनेटर रॉबर्ट मेनेनडेज़ भले ही भारत पर लोकतांत्रिक मूल्यों और मानवाधिकारों को लेकर दबाव बनाकर ध्यान खींचने की कोशिश कर रहे हों लेकिन यह भारत-अमेरिकी संबंध के नए आयामों को भी दिखाता है. दोस्त एक दूसरे से बातचीत करते हैं, चिंताओं को साझा करते हैं और सकारात्मक प्रभाव डालते हैं. भारत को इसे इसी रूप में देखना चाहिए.

share & View comments