Saturday, 25 June, 2022
होम50 शब्दों में मतअटार्नी जनरल द्वारा जजों की जेंडर ट्रेनिंग की बात सही कदम है, पीड़िता को बलात्कारी से शादी करने को नहीं कहा जा सकता

अटार्नी जनरल द्वारा जजों की जेंडर ट्रेनिंग की बात सही कदम है, पीड़िता को बलात्कारी से शादी करने को नहीं कहा जा सकता

दिप्रिंट का महत्वपूर्ण मामलों पर सबसे तेज नज़रिया.

Text Size:

अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल द्वारा जजों की जेंडर ट्रेनिंग की बात सही समय पर आई है. अदालत द्वारा बलात्कार पीड़ित को रेपिस्ट से राखी बंधवाना और शादी करने को कहने की बात सामने आ रही है. 21वीं सदी के भारत में यह स्वीकार नहीं किया जा सकता जहां हाल के वर्षों में रेप पर खुलकर बात करने की कोशिश हो रही है. यह सही समय है जब भारतीय न्याय व्यवस्था भी इसे स्वीकार करे.

कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ पंजाब और राजस्थान का बिल पास करना गर्म बुलबुले जैसा है, किसान बेवकूफ नहीं बनेंगे

पंजाब के बाद अब राजस्थान विधानसभा में केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ बिल लाया गया है. यह गर्म हवा की तरह है. इसे राष्ट्रपति की मंजूरी नहीं मिल सकेगी. ध्रुवीकृत राजनीति में विपक्ष से यह अपेक्षा रखना कि वो सुधारों की मेरिट को देखें जिसे वे खुद लागू करना चाहते थे, बेकार है. इस तमाशे से किसान बेवकूफ नहीं बनेंगे.

काबुल आतंकी हमला साबित करत है कि शांति वार्ता कारगर नहीं, नए अमेरिकी राष्ट्रपति को इस पर तत्काल ध्यान चाहिए

काबुल यूनिवर्सिटी पर इस्लामिक स्टेट का भयावह हमला सबूत है. अगर किसी को चाहिए था तो, कि तालिबान और संबद्ध समूह अफगान शांति वार्ता को आत्मसमर्पण के संकेत के रूप में देखते हैं, और किसी भी प्रतिबद्धता का सम्मान करने का कोई इरादा नहीं है. यह कुछ ऐसा है जिसे नए अमेरिकी राष्ट्रपति को तत्काल ध्यान पड़ेगा.

share & View comments