jaya-azam
जया और आज़म एक दूसरे के सामने रामपुर के दंगल में करेंगे आमना सामना
Text Size:
  • 92
    Shares

नई दिल्ली: सपा प्रत्याशी आज़म खान द्वारा भाजपा की उम्मीदवार और अभिनेत्री रहीं जया प्रदा के खिलाफ दिए गए आपत्तिजनक बयान के बाद उनकी मुसीबत बढ़ गई है. बता दें, जया प्रदा और आजम खान रामपुर लोकसभा सीट से आमने-सामने हैं. समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आज़म खान ने जया प्रदा का जिक्र करते हुए कहा था कि, ‘मैं 17 दिन में पहचान गया था कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.’ उनके द्वारा कहे गए इन अपशब्दों के बाद एक ओर जहां एफआईआर रजिस्टर हो गई है. वहीं इस पूरे मामले को महिला आयोग ने भी गंभीरता से लिया है.

राष्ट्रीय महिला आयोग ने चुनाव आयोग को लिखा खत- आज़म को भेजा नोटिस

एनसीडब्ल्यू चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने इस पूरे मामले को सुओ मोटो लेते हुए नोटिस भेजा है. उन्होंने कहा कि वह हमेशा से महिलाओं के खिलाफ गंदी बातें करते रहे हैं.

रेखा ने कहा कि महिला राजनीतिज्ञ के खिलाफ दूसरी बार कुछ गलत बोला है. रेखा शर्मा ने इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए इस पूरे मामले को चुनाव आयोग को लिखा है. जिसमें उन्होंने आयोग से कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है, जिससे उन्हें सबक मिल सके. रेखा शर्मा ने कहा कि महिलाएं सेक्स ऑब्जेक्ट नहीं हैं. मुझे लगता है कि महिला मतदाताओं को ऐसे लोगों को मतदान करने से पहले सोचना चाहिए.

भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा पर विवादित टिप्पणी करके आजम खान चौतरफा घिर गए हैं. आजम खान ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि उनकी बात को गलत तरीके से पेश किया गया है. उन्होंने कहा कि बयान में किसी का नाम नहीं लिया गया, अगर वह दोषी साबित होंगे तो चुनाव नहीं लड़ेंगे.

आज़म के बिगड़े बोल, संभले- कहा- जुर्म साबित हुआ तो चुनाव नहीं लड़ूंगा

आज़म खान ने रविवार को शाहबाद में आयोजित जनसभा में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में भाजपा प्रत्याशी का नाम लिए बिना उन पर टिप्पणी की थी. जिसके बाद यह वीडियो वायरल हो गया.

शनिवार को ही जया ने कहा था कि उन्होंने आजम को भाई जैसा समझा पर उन्होंने मेरी बेइज्जती ही की. जया हाल ही में सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुई हैं.

आज़म खान ने रविवार को कहा,’ मैं उसे (जया प्रदा) रामपुर लाया था. आपने देखा कि मैंने किसी को भी उसका शरीर तक छूने नहीं दिया. मैं उसे 17 साल पहले यहां लाया था, उसके चेहरे को पहचानने में मुझे 17 साल लग गए, लेकिन इस बार मैं 17 दिनों में पहचान गया कि वह खाकी अंडर…पहनती है.

जब उनके इस बयान पर विवाद बढ़ा तो आज़म खान ने कहा, ‘मैंने किसी का नाम नहीं लिया है. अगर यह बयान सिद्ध होता है, तो मैं इस चुनाव से पीछे हट जाऊंगा.’ उन्होंने कहा, ‘मैं नौ बार रामपुर का विधायक रहा हूं और मंत्री भी रहा हूं. इतना मुझे पता है कि मुझे क्या बोलना है . अगर कोई यह साबित कर दे कि मैंने किसी का नाम लिया है और किसी का उपहास उड़ाया हो..अगर मुझपर आरोप साबित हो जाता है, तो मैं चुनाव से पीछे हट जाउंगा.’

वहीं, जया प्रदा के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने पर आजम खान के खिलाफ शाहबाद थाने में केस दर्ज किया गया है. आईपीसी की धारा 509 और लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 125 में केस दर्ज किया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

जया प्रदा बोलीं न डरूंगी न भागूंगी

वहीं, जया प्रदा ने इस पूरे मामले पर कहा, ‘आज़म खान द्वारा इस तरह कि टिप्पणी मेरे लिए नई नहीं है. आपको याद होगा. जब मैं 2009 में उम्मीदवार थी तब भी मेरी मदद को कोई आगे नहीं आया था. तब भी उन्होंने मेरे खिलाफ टिप्पणी की थी.’

जया ने कहा, ‘मैं एक महिला हूं और उन्होंने जो भी कहा मैं दोहरा नहीं सकती हूं. मैं क्या कर सकती हूं.’ जया ने चुनाव आयोग से मांग की है कि उन्हें चुनाव लड़ने की इजाजत न दी जाए. अगर वह इस प्रजातंत्र में जीतते हैं तो महिलाओं के लिए इस समाज में कोई जगह नहीं रह जाती है. जया ने सवाल किया हमलोग कहा जाएंगें? क्या मैं मर जाऊं, तब आप संतुष्ट होंगे. अगर आपको लगता है कि मैं डर जाऊंगी और रामपुर छोड़ दूंगी तो मैं कह देना चाहती हूं कि मैं कहीं जाने वाली नहीं हूं.


  • 92
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here