news on politics
मणिपुर में वोटिंग करने पहुंचीं महिलाएं | सोशल मीडिया
Text Size:
  • 20
    Shares

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के अंतर्गत 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 95 सीटों पर मतदान गुरुवार सुबह से जारी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर युवाओं को वोट डालने के लिए प्रेरित करते हुए ट्वीट किया है, वहीं कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी जिन लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहे हैं वहां मतदाताओं से गुजारिश की है कि वोट करने जाएं तो न्याय’ का ध्यान रखें. उन्होंने कहा आज वोट डालें तो बेरोजगारी, किसानों की परेशानी, नोटबंदी, व्यापारियों को हुई परेशानी को ध्यान में रखकर वोट डालें.

वहीं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा है मैं द्वितीय चरण के सभी मतदाताओं से विशेषकर युवाओं से अपील करता हूं कि नये भारत की इस गति को बनाये रखने के लिए मतदान अवश्य करें.आपका एक वोट देश के गौरव और विकास की आधार शिला है.

सात चरणों के अंतर्गत होने वाले लोकसभा चुनाव की शुरुआत 11 अप्रैल को हुई थी और यह 19 मई को समाप्त होगा. मतों की गिनती 23 मई को होगी.


18 अप्रैल मतदान और चुनावी हलचल से जुड़ी हर खबर


लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 66 फीसदी मतदान

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 95 सीटों पर गुरुवार को 66 फीसदी मतदान दर्ज किया गया. निर्वाचन आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को कहा, ‘दूसरे चरण के चुनाव में मतदान का प्रारंभिक आंकड़ा 66 प्रतिशत है. 2014 के चुनाव में दूसरे चरण का मतदान प्रतिशत 69.62 प्रतिशत था.

मणिपुर में वोटिंग फीसद और जगहों से ज्यादा

2019 लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान जारी है. 3 बजे तक अलग-अलग राज्य में मतदान प्रतिशत अलग-अलग है. दोपहर के बाद मतदाता कड़ी धूप में खड़े होकर मतदान कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों पर 50.39 प्रतिशत हुआ है तो वहीं महाराष्ट्र में 46.63 फीसदी तमिलनाडु में 52.02 फीसदी, ओडिशा में 53 फीसदी, मणिपुर में 67.5 फीसदी, छ्त्तीसगढ़ में 59.72 फीसदी और कर्नाटक में 49.26 फीसदी मतदान हुआ है.

अखिलेश बोले- लोग जग गये हैं वोटों की बारिश हो रही है

समाजवादी पार्टी(सपा) के अध्यक्ष और आजमगढ़ लोकसभा सीट से गठबंधन प्रत्याशी अखिलेश यादव ने गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल किया. इस दौरान सपा महासचिव बलराम यादव, बसपा महासचिव सतीशचन्द्र मिश्रा, प्रदेश अध्यक्ष आर.एस. कुशवाहा, पूर्वाचल प्रभारी घनश्याम चंद खरवार भी मौजूद रहे.

अखिलेश यादव एक विशाल काफिले के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे, जहां उन्होंने मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में जाकर अपना नामांकन दाखिल किया. उन्होंने इस दौरान पत्रकारों से कहा, ‘जनता जागरूक हो गई है. इसलिए पहले और दूसरे चरण के मतदान में वोटों की बारिश हो रही है. इसी तरह से वोटों की बारिश आगे भी होगी. यह बारिश समाजवादी धरती आजमगढ़ पर भी होगी.’ अखिलेश ने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि आजमगढ़ में सपा-बसपा द्वारा किए गए कामों के आधार पर गठबंधन जीतेगा. भाजपा को बताना पड़ेगा कि उन्होंने देश और प्रदेश में क्या काम किया है? भाजपा को पांच सालों का नहीं, बल्कि सात सालों का हिसाब देना होगा.’

गौरतलब है कि आजमगढ़ से 2014 में अखिलेश के पिता मुलायम सिंह यादव सांसद थे. इस बार यहां से अखिलेश स्वयं चुनाव लड़ रहे हैं. भाजपा ने उनके खिलाफ भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को प्रत्याशी बनाया है.

अखिलेश यादव ने पिता मुलायम सिंह की सीट चुनी

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को आजमगढ़ लोकसभा सीट से नामांकन किया. उन्होंने इस बार कन्नौज सीट से चुनाव न लड़कर अपने पिता मुलायम सिंह यादव की परंपरागत सीट आजमगढ़ को चुना है. इस दौरान पार्टी के अन्य नेता भी मौजूद थे.

बता दें की पूर्वांचल के वोटरों पर पकड़ बनाने के लिए अखिलेश ने यह सीट चुनी है. यहां पर हमेशा समाजवादी पार्टी को मजबूत आधार मिला है. इस सीट से चुनाव लड़कर कहीं नहीं सपा पूर्वांचल की बाकि सीटों पर अपना असर रखना चाहती है.

बीजेपी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरन जूता कांड

भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में प्रेस कांफ्रेस के दौरान एक व्यक्ति ने प्रवक्ता जीवीएल नरिसम्हा राव पर जूता फेंक दिया. इस दौरान मंच पर महासचिव भूपेंद्र यादव भी मौजूद थे. नरिसम्हा प्रेस को संबोधित कर रहे थे तभी मीडियाकर्मियों के बीच बैठा एक शख्स उठा और उसने अपना जूता राव के ऊपर फेंक दिया. हालांकि उन्हें चोट नहीं आई. इसके बाद भाजपा कार्यालय में पदस्थ कर्मचारी और सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत शख्स को पकड़ लिया. पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है. प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक शख्स का नाम डॉ. शक्ति भार्गव बतााया जाता है. वह कानपुर का रहने वाला है. भाजपा ने जूता फेंकने वाले शख्स को कांग्रेस मानसिकता से प्रेरित बताया है.

मोहम्मद सलीम पर हमला, तृणमूल कांग्रेस के लोगों पर आरोप

दूसरे चरण का मतदान जारी है. इस दौरान पश्चिम बंगाल से हिंसा की खबर आ रही है. पश्चिम बंगाल के रायगंज से सीपीएम के उम्मीदवार मोहम्मद सलीम के काफिले पर गुरुवार को कथित तौर पर फायरिंग की खबर है. फिलहाल सलीम सुरक्षित हैं. उन्हें पार्टी कार्यालय ले जाया गया है. हमले के पीछे तृणमूल कांग्रेस के लोगों का हाथ बताया जा रहा है.

बताया जा रहा है कि सीपीएम नेता सलीम पर तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने हमला किया है. सलीम रायगंज सीट से सांसद हैं. घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल है. वहीं सलीम ने कहा है कि उन्हें जानकारी थी कि यहां अल्पसंख्यक लोगों को गलत तरीके से प्रभावित करने की कोशिश की जा रही है. यही जानने के लिए वो यहां पहुंचे थे. घटना के बाद उन्हें इस्लामपुर के पार्टी कार्यालय ले जाया गया है.

पूनम सिन्हा ने लखनऊ से और मेनका गांधी  ने भरा नामांकन 

लखनऊ लोकसभा सीट से सपा उम्मीदवार के रूप में पूनम सिन्हा ने अपना नामांकन भरा. उनके नामंकन के दौरान सपा के कई नेता मौजूद रहें. वहीं सुलतानपुर सीट ने केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने भी नामांकन भरा.

लखनऊ सीट से अब भाजपा के राजनाथ सिंह, सपा-बसपा-आरएलडी महागठबंधन की संयुक्त उम्मीदवार पूनम सिन्हा और कांग्रेस के आचार्य प्रमोद कृष्णम के बीच त्रिकोणीय टक्कर होनी है.

मतदान के दौरान पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा

पश्चिम बंगाल में उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर मंडल के दिगिरपर मतदान केंद्र पर अज्ञात बदमाशों द्वारा कथित रूप से वोट डालने से रोकने के बाद सुरक्षा कर्मियों ने आंसू गैस के गोले दागे और लाठीचार्ज किया. इसके अलावा रायगंज में भाजपा प्रत्याशी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगाए.

बीजेपी जनरल सेक्रेटरी और रायगंज निर्वाचन क्षेत्र से उम्मीदवार देबाश्री चौधरी ने आरोप लगाया कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने रायगंज कोरोनेशन हाई स्कूल में बूथ पर कब्जा करने की कोशिश की है. उनके मुताबिक, ‘टीएमसी कार्यकर्ता बूथ पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे थे. वे वहां मुसलमानों के बीच प्रचार कर रहे थे. यह चुनाव अभियान नहीं है.

लोकतंत्र की खूबसूरती है मतदान

मतदान करने अपने अपने लोकसभा क्षेत्र से जमकर लोग बाहर निकल रहे हैं. बिहार में 10 बजे तक 20 फीसदी तक मतदान हुआ है. वहीं पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा अपनी पत्नी के साथ अपने संसदीय क्षेत्र हासन मतदान करने पहुंचे. वहीं फतेहपुर सीकरी में राज बब्बर वोट डालने पहुंचे. असम के सिलचर में मौजूदा सांसद सुष्मिता देव अपनी मां और बहन के साथ मतदान केंद्र पहुंची. वहीं महाराष्ट्र के लातूर संसदीय क्षेत्र में 105 साल की कविबाई कांबले अपने परिवार के साथ मतदान डालने पहुंची. वहीं उधमपुर में नया शादी शुदा जोड़ा सुबह-सुबह मतदान करने पहुंचा.

उत्तर प्रदेश में आठ सीटों पर मतदान जारी

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान सुबह सात बजे से शुरू हो गया है. इसमें उप्र की आठ सीटें नगीना, अमरोहा, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस, मथुरा, आगरा और फतेहपुर सीकरी के लिए वोट डाले जा रहे हैं.

इस चरण में जिन सियासी दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर हैं, उनमें मथुरा से हेमामलिनी, फतेहपुर सिकरी से राजबब्बर और आगरा से सरकार के मंत्री एसपी सिंह बघेल प्रमुख हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने बताया कि द्वितीय चरण में भाजपा के 8, कांग्रेस-8, बसपा -6, सपा-1, रालोद-1 व शेष अन्य निर्दलीय प्रत्याशी हैं.

उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में 9 जिलों के 8 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों में कुल मतदाताओं की संख्या-1,41,94,132 (एक करोड़ इक्तालीस लाख चौरानबे हजार एक सौ बत्तीस ) है. इसमें 76,36,857 (छिहत्तर लाख छत्तीस हजार आठ सौ सत्तावन) पुरूष व 65,56,504 (पैसठ लाख छप्पन हजार पांच सौ चार) महिला मतदाता हैं. वहीं थर्ड जेंडर की संख्या 771 है. मतदान का समय सुबह 7 से शाम 6 बजे तक होगा.

लू ने बताया कि मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. संवेदनशील और अति संवेदनशील केन्द्रों पर अतिरिक्त सुरक्षा के तौर पर अर्धसैनिक बलों के सशस्त्र जवान तैनात किए गए हैं. 1121 बूथों पर डिजिटल कैमरे और 781 केन्द्रों पर वीडियो कैमरे लगाए गए हैं. 1614 बूथों की वेब मनिटरिंग की जा रही है. वोटिंग के लिए 19367 ईवीएम बैलट यूनिट, 19348 कंट्रोल यूनिट और 20527 वीवीपैट मशीने लगाई गई हैं.

उन्होंने बताया कि मतदान केन्द्रों पर कड़ी सुरक्षा के साथ ही निगरानी के लिए 1346 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 187 जोनल मजिस्ट्रेट और 617 स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं.

ओडिशा, पश्चिम बंगाल, जम्मू, तमिलनाडु और कर्नाटक में वोटिंग जारी

ओडिशा में इस चरण के तहत 147 विधानसभा सीटों में से 35 सीटों और 21 लोकसभा सीटों में से पांच पर मतदान हो रहे हैं. पश्चिम बंगाल में तीन संसदीय क्षेत्रों के लिए मतदान सुबह सात बजे शुरू हुए.

तमिलनाडु में 39 लोकसभा सीटों में से कुल 38 सीटों पर मतदान हो रहे हैं. आयकर विभाग ने वेल्लोर में बड़ी संख्या में नकदी बरामद की थी, जिसके बाद चुनाव आयोग ने मंगलवार को वेल्लोर लोकसभा सीट पर चुनाव रद्द कर दिए.

इसके अलावा कर्नाटक की 28 सीटों में से 14, महाराष्ट्र की 48 सीटों में से 10, उत्तरप्रदेश की 80 सीटों में से आठ, बिहार की 40 सीटों में से पांच और छत्तीसगढ़ की 11 और पश्चिम बंगाल की 42 सीटों में से तीन-तीन सीटों पर मतदान हो रहे हैं.

इस चरण के अंतर्गत असम की 14 सीटों में पांच सीटों पर मतदान जारी है, वहीं जम्मू एवं कश्मीर की छह में से दो सीटों-श्रीनगर और उधमपुर में मतदान हो रहे हैं. इसके अलावा मणिपुर और पुडुचेरी की एक-एक सीट पर चुनाव हो रहे हैं. वहीं, त्रिपुरा पूर्व में सुरक्षा कारणों की वजह से मतदान स्थगित कर दिया गया है जो अब तीसरे चरण के अंतर्गत 23 अप्रैल को होगा.

इस चरण के अंतर्गत पुडुचेरी की एकमात्र लोकसभा सीट और थाट्टनचावाडी विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव जारी है.

(आईएएनएस के इनपुट्स के साथ)


  • 20
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here