news on Election Commission| ThePrint.in
भारतीय निर्वाचन आयोग के कार्यालय की फोटो| इसीआई
Text Size:
  • 36
    Shares

नई दिल्लीः 2019 लोकसभा चुनाव की तिथि की घोषणा के बाद से लागू चुनाव आचार संहिता को सुनिश्चित करने के लिए चुनाव आयोग अपनी कार्रवाइयों में जुट गया है. इसी के तहत उसने दिल्ली में अब तक 63449 होर्डिंग्स, बैनर्स, पोस्टर्स हटवाये हैं. इन पर कानूनी कर्रवाई करते हुए एक्साइज एक्ट के तहत कुल 137 और आर्म्स एक्ट के तहत 44 एफआईआर दर्ज की गई हैं.

वहीं चुनाव आयोग ने आम आदमी पार्टी के कॉल सेंटर पर छापेमारी कर उसकी गैर कानूनी गतिविधियों पर कार्रवाई की है. इसको लेकर आप के सीनियर नेता कार्यकर्ताओं के साथ चुनाव आयोग के दफ्तर के बाहर धरने पर बैठ गये हैं और नारेबाजी कर रहे हैं. कार्यालय के बाहर धरना दे रहे नेता आयोग पर बीजेपी के इशारे पर काम करने का आरोप लगा रहे हैं.

इसके अलावा चुनाव आयोग पूरे दिल्ली में विभिन्न ऑफिसों की मीटिंग कर चुनावी तैयारियों में लग गया है. डीजी बीसीएएस, डीजी बीएसएफ, डायरेक्टर, फाइनैंसियल इंटलीजेंस यूनिट (एफआईयू-ईएनडी) और डीजी सीआरपीएफ भी इस मीटिंग में मौजूद हैं.

वहीं चुनाव आयोग ने दिल्ली में आप सरकार के बनाये कॉल सेंटर पर छापे मारे हैं. आरोप है कि कॉल सेंटर से लोगों को चुनाव आयोग के खिलाफ फोन किये जा रहे हैं, जिसमें बताया जा रहा है कि वह उनके वोट दोबारा जुड़वा रहे हैं. ये बीजेपी के इशारे पर चुनाव आयोग द्वारा कटवाये गये हैं.

चुनाव आयोग के छापे के बाद आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता चुनाव आयोग के ऑफिस के बाहर धरने पर बैठ गये हैं और कार्रवाई को गैरकानूनी बताते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं.

चुनावा आयोग की 2019 लोकसभा चुनाव को 7 चरणों में कराने की तारीखों की घोषणा के बाद जहां राजनीतिक पार्टियां अपनी तैयारियों में जुट गई है. वहीं चुनाव आयोग भी इसे बेहतर ढंग से संपन्न कराने में जुट गया है. चुनाव आचार संहिता को सुनिश्चित करने के लिए पूरे देशभर में कदम उठा रहा है.

 


  • 36
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here