Saturday, 25 June, 2022
होमविदेशयूक्रेन पर हमले के आदेश दे चुका है रूस, अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का दावा

यूक्रेन पर हमले के आदेश दे चुका है रूस, अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का दावा

अमेरिकी खुफिया विभाग का कहना है कि रूस ने हमले का आदेश दिया है और अब योजना के आखिरी चरण पर है जिसमें वह मिसाइल और हवाई हमले से पहले साइबर हमले से शुरुआत करेगा.

Text Size:

नई दिल्ली: रूस और यूक्रेन के बीच तनातनी की खबरें इन दिनों खूब सुर्खियां बटोरी रही हैं. इसी बीच अब अमेरिकी खुफिया एंजेसियों ने दावा किया है कि रूस के टैंक यूक्रेन की तरफ बढ़ने लगे हैं और जल्द ही हमला कर सकता हैं. रूस दावा कर चुका है कि वह अपनी सेना पीछे हटा चुका है कि अमेरिका ने कहा है कि रूस ने अपनी सेना को युद्ध के लिए आगे बढ़ने का आदेश दिया है.

अमेरिकी खुफिया विभाग का कहना है कि रूस ने हमले का आदेश दिया है और अब योजना के आखिरी चरण पर है जिसमें वह मिसाइल और हवाई हमले से पहले साइबर हमले से शुरुआत करेगा. हालांकि व्हाइट हाउस या पेंटागन ने इसकी पष्टि नहीं की है. पर इससे पहले राष्ट्रपति जो बाइडेन और अमेरिका का विदेश मंत्रालय आशंका जता चुका है कि रूस युद्ध से पीछे नहीं हट रहा है बल्कि झूठ बोलकर युद्ध की तैयारियों में लगा है.

अमेरिकी खुफिया विभाग की यह जानकारी वॉशिंगटन पोस्ट में छपी है, ‘अमेरिकी खुफिया विभाग ने राष्ट्रपति जो बाइडन को बताया है कि रूस पूरी ताकत से हमला करने की योजना बना रहा है. कई लोगों को इसकी जानकारी है लेकिन संवेदनशीलता को देखते हुए वे अपनी पहचान उजागर नहीं करना चाहते.’

हालांकि अमेरिकी युद्ध टालने के लिए हर संभव प्रयास करता दिखाई दे रहा है. यूक्रेन की सीमा पर बढ़ते तनाव के बीच अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने रविवार को कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडन युद्ध को टालने के लिए अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ किसी भी स्थान और समय में किसी भी प्रारूप में बातचीत करने के लिए तैयार हैं.

ब्लिंकन ने ‘सीएनएन’ के साथ साक्षात्कार में कहा, ‘जैसा कि हमने पहले ही कहा है कि हमले की ओर ले जाने वाली हर चीज होती प्रतीत हो रही है। हम मानते हैं कि राष्ट्रपति पुतिन ने निर्णय ले लिया है, हालांकि, जब तक टैंक वास्तव में आगे नहीं बढ़ते और विमान उड़ान नहीं भरते, तब तक हम हर अवसर का उपयोग करेंगे. हम हर मौके का इस्तेमाल करेंगे और यह देखेंगे कि क्या कूटनीति अभी भी राष्ट्रपति पुतिन को इस कदम को आगे बढ़ाने से रोक सकती है?’


यह भी पढ़ें- ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय कोरोना पॉजिटिव, दिखे हल्के लक्षण


 

share & View comments