Thursday, 7 July, 2022
होमविदेशउग्र भीड़ से श्रीलंकाई नागरिकों को बचाने की कोशिश करने वाले व्यक्ति को वीरता पदक देगी पाकिस्तान सरकार

उग्र भीड़ से श्रीलंकाई नागरिकों को बचाने की कोशिश करने वाले व्यक्ति को वीरता पदक देगी पाकिस्तान सरकार

सीसीटीवी फुटेज में दिखायी दिया कि उत्पादन प्रबंधक मलिक अदनान नाम का एक शख्स गुस्साए लोगों के एक समूह का सामना कर रहा है.

Text Size:

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने उस व्यक्ति को वीरता पदक देने का रविवार को एलान किया जिसने सियालकोट में अपनी जान खतरे में डालकर उग्र भीड़ से कारखाना प्रबंधक एवं श्रीलंकाई नागरिक को बचाने की कोशिश की थी.

सीसीटीवी फुटेज में दिखायी दिया कि उत्पादन प्रबंधक मलिक अदनान नाम का एक शख्स गुस्साए लोगों के एक समूह का सामना कर रहा है और सियालकोट के एक कारखाने में भीड़ से श्रीलंकाई नागरिक प्रियंता कुमारा दियावदना को बचाने की कोशिश कर रहा है. बाद में भीड़ ने अदनान को काबू में कर लिया और श्रीलंकाई नागरिक को घसीटकर सड़क पर ले गयी और पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी. इसके बाद भीड़ ने ईशनिंदा के आरोपों को लेकर शव को आग लगा दी.

खान ने ट्वीट किया, ‘आवाम की ओर से मैं मलिक अदनान के नैतिक साहस और बहादुरी को सलाम करना चाहता हूं जिन्होंने सियालकोट में उग्र भीड़ से अपनी जान खतरे में डालकर प्रियंता दियावदना को बचाने का भरसक प्रयास किया. हम उन्हें तमगा-ए-शुजात से नवाजेंगे.’


यह भी पढ़ें: भारत में जन्मे पराग अग्रवाल बने ट्विटर के CEO तो पाकिस्तानियों के दिल जल उठे


 

share & View comments