scorecardresearch
Sunday, 1 October, 2023
होमविदेशइंडोनेशिया भूकंप में अब तक 160 की मौत, कई घायल - विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जताया दुख

इंडोनेशिया भूकंप में अब तक 160 की मौत, कई घायल – विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जताया दुख

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इंडोनेशिया के जावा में भयंकर भूकंप के कारण हुई लोगों की मौत पर दुख जताते हुए कहा है कि इस दुख की घड़ी में भारत इंडोनेशिया के साथ खड़ा है.

Text Size:

नई दिल्ली: सोमवार को इंडोनेशिया के पश्चिमी प्रांत के पश्चिम जावा में  सोमवार को आए 5.4 तीव्रता का भूकंप से अभी तक 160 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि घायलों की संख्या बढ़कर 300 तक पहुंच गई है. भूकंप आने की जानकारी यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे (USGS) द्वारा दी गई थी.

भूकंप के झटके इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में भी महसूस किए गए. यूएसजीएस के मुताबिक, भूकंप की गहराई जमीन से 10 किलोमीटर नीचे थी और सोमवार को करीब 11:51:10 (यूटीसी+05:30) पर आई.

एपिसेंटर 6.840 डिग्री दक्षिण अक्षांश और 107.107 डिग्री पूर्वी देशांतर पर था. जावा राष्ट्रीय राजधानी जकार्ता का सबसे बड़ा शहर है.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इंडोनेशिया के जावा में भयंकर भूकंप के कारण हुई लोगों की मौत पर दुख जताया है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

जयशंकर ने अपने ट्वीट में कहा ‘इंडोनेशिया के जावा में भूकंप के कारण हुई जानमाल की क्षति की खबर सुनकर बहुत दुख हुआ.’

उन्होंने आगे कहा ‘मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं. भारत इस कठिन समय में इंडोनेशिया के साथ एकजुटता से खड़ा है.

इससे पहले नेपाल में अब तक हफ्ते भर में लगभग 3 बार भूकंप आ चुका है, जिसके झटके दिल्ली-एनसीआर तक महसूस किए गए हैं.

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के आंकड़ों के अनुसार, उत्तराखंड-नेपाल सीमा पर हिमालयी क्षेत्र में आठ से 16 नवंबर के बीच विभिन्न तीव्रता के कम से कम 10 भूकंप आ चुके हैं.

इंडोनेशिया के घनी आबादी वाले मुख्य द्वीप जावा में भूकंप के कारण कई मकान ध्वस्त हो गये, कम से कम 162 लोगों की मौत हो गयी तथा सैंकड़ों अन्य घायल हो गये.

जावा एक ज्वालामुखी वाला द्वीप है जो सुमात्रा और बाली के बीच स्थित है, यह इंडोनेशिया के भौगोलिक और आर्थिक केंद्र में स्थित है.


यह भी पढ़ें: लाल फीताशाही को पीछे छोड़कर कैसे बिहार का पहला पेपरलेस जिला बना सहरसा


share & View comments