Saturday, 25 June, 2022
होमराजनीतिगन्ने के जूस के कारोबार से जोड़कर युवाओं को रोजगार देगी यूपी सरकार

गन्ने के जूस के कारोबार से जोड़कर युवाओं को रोजगार देगी यूपी सरकार

उत्तर प्रदेश सरकार गन्ना किसानों को प्रोत्साहन करने और उनकी फसल की ब्रांडिंग करने की भी योजना बना रही है.

Text Size:

लखनऊ : पकौड़े बेचकर रोजगार कमाने के व्यापार पर पीएम मोदी का बयान पिछले साल खूब चर्चा का विषय बना था. अब बेरोज़गार युवाओं को रोजगार देने के लिए योगी सरकार गन्ने के जूस के कारोबार से जोड़ेगी. इसके तहत योगी सरकार अब युवाओं को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के जरिए लोन मुहैया करवाकर इस रोजगार से जोड़ने जा रही है.

हाल ही में सीएम योगी ने गन्ना विकास विभाग की समीक्षा बैठक ली. जिसमें ये तय हुआ कि सरकार गन्ना किसानों को प्रोत्साहन करने और उनकी फसल की ब्रांडिंग करने की भी योजना बना रही है. चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सीएम योगी की मंशा है कि बेरोजगार नौजवानों को गन्ना जूस के कारोबार से जोड़कर उनको रोजगार दिया जाए. इसी के तहत अब चीनी मिलों से निकलने वाले गन्ने के जूस की देश-विदेश में ब्रांडिंग की जाएगी.

यूपी सरकार की ओर से इसको ट्वीट भी किया गया है जिसमें लिखा है. युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में अग्रसर यूपी सरकार ने ‘प्रधानमंत्री मुद्रा योजना’ के जरिए ऋण मुहैया करवाकर नौजवानों को गन्ने के जूस के कारोबार से जोड़ने का फैसला लिया है.
हालांकि इस पर कुछ युवाओं ने तंज भी कसे हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

टेट्रा पैक में भी मिलेगा गन्ने का जूस

सूत्रों के मुताबिक इस मीटिंग के दौरान ये भी तय हुआ कि गांव व कस्बों में छोटे-छोटे गन्ने के आउटलेट खोलकर गन्ना रोजगार को बढ़ावा दिया जाए. जहां युवक गन्ने जूस के ‘टेट्रा पैक’ को बेचकर मुनाफा कमा सकेंगे. उम्मीद की जा रही है कि अगले 2 से 3 महीने में यूपी में गन्ने के जूस का टेट्रा पैक लांच कर दिया जाएगा. बता दें कि यूपी में पश्चिम से लेकर पूर्वांचल में बड़े पैमाने पर गन्ने की खेती होती है. चीनी मिलों को आर्थिक मद्द देने के लिए सरकार ने कम ब्याज दरों पर सॉफ्ट लोन देने का शासनादेश भी पहले ही जारी कर दिया है.

कई जगह नहीं हुआ गन्ना मूल्य नहीं चुका रहीं मिलें

यूपी के बागपत समेत आस-पास के जिलों में गन्ना उत्पादक किसान चीनी मिलों को सप्लाइ किए गए गन्ने का मूल्य अभी तक न मिल पाने से आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में बकाया गन्ना मूल्य भुगतान शीघ्र करने और खेतों में गन्ना रहने तक चीनी मिलें बंद न करने की चेतावनी दी थी. जिसके बाद उम्मीद जगी थी. डीसीओ ने भी जिले की तीनों चीनी मिलों को नोटिस भेजकर अविलंब भुगतान करने के निर्देश दिए थे. लेकिन भुगतान की गति जोर नहीं पकड़ पाई है.

कांग्रेस की पूर्वी यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने इसको लेकर ट्वीट भी किया है.

share & View comments