Thursday, 7 July, 2022
होमराजनीतिबुआ भतीजे की तकरार बढ़ी, मायावती बोलीं- 'मैं CM बनूं या ना बनूं सपा का CM बनने का सपना पूरा नहीं हो सकता है'

बुआ भतीजे की तकरार बढ़ी, मायावती बोलीं- ‘मैं CM बनूं या ना बनूं सपा का CM बनने का सपना पूरा नहीं हो सकता है’

अखिलेश ने कहा था कि 'अगर 'बहुजन समाज' के लोगों के साथ गठबंधन जारी रहता है, तो बसपा और डॉ भीम राव आंबेडकर के सिद्धांतों का पालन करने वाले देखते कि देश का प्रधानमंत्री कौन बनता.'

Text Size:

नई दिल्ली : बसपा सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधा है. पूर्व सीएम मायावती ने शुक्रवार को कहा कि ‘मैं आगे सीएम व पीएम बनूं या ना बनूं, लेकिन मैं अपने कमजोर व उपेक्षित वर्गों के हितों में देश का राष्ट्रपति कतई भी नहीं बन सकती हूं.’

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति उम्मीदवार बनने को लेकर मायावती पर प्रतिक्रिया दी थी, जिसपर पलटवार करते हुए बसपा सुप्रीमो ने समाजवादी पार्टी पर हमला किया. पूर्व सीएम मायावती ने शुक्रवार को कहा कि अब यूपी में सपा का सीएम बनने का सपना कभी भी पूरा नहीं हो सकता है.

उन्होंने ट्वीट करते हुए यह भी लिखा कि इसके साथ ही, जो पिछले हुये लोकसभा आमचुनाव में, बी.एस.पी. से गठबन्धन करके भी, यहां खुद 5 सीटें ही जीत सके हैं, तो फिर वो बी.एस.पी. की मुखिया को कैसे पीएम बना पायेंगे? अतः इनको ऐसे बचकाने बयान देना बन्द करना चाहिये.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बसपा सुप्रीमो ने आरोप लगाया कि सपा मुखिया यूपी में मुस्लिम व यादव समाज का पूरा वोट लेकर तथा कई-कई पार्टियों से गठबन्धन करके भी जब अपना सीएम बनने का सपना पूरा नहीं कर सके हैं, तो फिर वो दूसरों का पीएम बनने का सपना कैसे पूरा कर सकते हैं?

मायावती के पीएम बनने के पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा था कि पिछली बार (2019 के लोकसभा चुनावों में) गठबंधन (बसपा के साथ) इसी के लिए बनाया था.’ उन्होंने कहा, ‘अगर ‘बहुजन समाज’ के लोगों के साथ गठबंधन जारी रहता है, तो बसपा और डॉ भीम राव आंबेडकर के सिद्धांतों का पालन करने वाले देखते कि देश का प्रधानमंत्री कौन बनता.’

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन ने 273 सीट जीतकर एक बार फिर से सत्ता हासिल कर ली, वहीं सपा गठबंधन को 125 सीटें प्राप्त हुई हैं. बहुजन समाज पार्टी को एक सीट मिली है.


यह भी पढ़ें : मदरसा योजना पर बोले UP के मंत्री अंसारी- ‘मुस्लिम स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में भी पढ़ाया जाएगा’


 

share & View comments