scorecardresearch
Friday, 12 July, 2024
होमराजनीतिकेंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का दावा- PM Modi को ड्रोन या टेलिस्कोपिक गन से मारा जा सकता था 

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का दावा- PM Modi को ड्रोन या टेलिस्कोपिक गन से मारा जा सकता था 

सिंह ने 'सुरक्षा चूक' के पीछे पंजाब के सीएम ऑफिस से जुड़ी उच्चस्तरीय साजिश का भी आरोप लगाया, जिसके कारण बुधवार को पीएम का फिरोजपुर दौरा रद्द कर दिया गया.

Text Size:

नई दिल्ली: केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह ने शुक्रवार को दावा किया कि बुधवार को अपने पंजाब दौरे के पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की को ड्रोन या टेलिस्कोपिक गन से मारा जा सकता था.

सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री ऑफिस पर दोष मढ़ा और बताया कि 5 जनवरी को हुई ‘बड़ी सुरक्षा चूक’ के पीछे एक उच्चस्तरीय साजिश थी.

प्रदर्शनकारी किसानों ने शहर की ओर जाने वाली सड़क को जाम कर दिया था, जिसके बाद पीएम मोदी का बुधवार को फिरोजपुर का पहले से तय दौरा रद्द कर दिया. पीएम बठिंडा हवाई अड्डे से सड़क के रास्ते से जा रहे थे क्योंकि खराब मौसम के कारण वह हेलीकॉप्टर उन्हें वहां नहीं ले जा सका. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसे ‘प्रमुख सुरक्षा चूक’ करार दिया कि पीएम ’15-20 मिनट के लिए’ फ्लाईओवर पर फंसे रहे. इसके नतीजे के तौर पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राज्य में अभी सरकार चलाने वाली कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गया है.

भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं और मंत्रियों ने इस कथित चूक पर गुस्सा जाहिर किया है, साथ ही भाजपा ने इस मुद्दे पर प्रेसवार्ता भी किया है. सिंह ने ट्विटर पर फ्लाईओवर पर फंसे प्रधानमंत्री के काफिले का वीडियो फुटेज साझा किया है.


यह भी पढ़ें: पंजाब में हुई सुरक्षा चूक के बाद CM चौहान समेत कई बड़े नेता PM Modi के लिए मंदिरों में कर रहे पूजा


सिंह ने कहा, ‘यह कोई इत्तिफाक नहीं था बल्कि पीएम को मौत के कुएं में धकेलने की साजिश थी. वह महादेव की कृपा से बच गये. अगर उच्च स्तर पर सही से जांच हुई तो यह साजिश न केवल पंजाब के सीएम ऑफिस से जुड़ेगी, बल्कि इसके तार ऊपर तक भी जुड़ेंगे. ऐसा लगता है कि उन्हें ड्रोन या टेलीस्कोपिक गन से मारा जा सकता था.’

उन्होंने आगे कहा, ‘वीडियो देखकर साजिश का अंदाजा लगाया जा सकता है. प्रधानमंत्री को फ्लाईओवर पर कैसे रोका गया. जांच सही से होनी चाहिए और किसी भी साजिश रचने वाले को बख्शा नहीं जाना चाहिए.

पीएम के पंजाब दौरे के दौरान हुई सुरक्षा में चूक के मुद्दे ने राजनीतिक मोड़ ले लिया है, जिसमें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भाजपा के तमाम वरिष्ठ नेता गुरुवार को पीएम मोदी की सलामती और उनकी लंबी उम्र के लिए देशभर के कई मंदिरों में पूजा-अर्चना कर रहे हैं.

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने प्रधानमंत्री का दौरा रद्द होने पर ‘अफसोस और पीड़ा’ जाहिर की है, लेकिन कहा कि उनकी सरकार की तरफ से सुरक्षा में कोई चूक नहीं की गई है.

राज्य सरकार ने ऐसी किसी भी चूक की जांच के लिए एक उच्चस्तरीय समिति का गठन किया है.

(इस ख़बर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ें: चुनावों के बीच OBC पर जस्टिस रोहिणी आयोग को 12वीं बार विस्तार देगी मोदी सरकार


 

share & View comments