scorecardresearch
Friday, 2 June, 2023
होमराजनीतिराहुल के बयान पर BJP का संसद में हंगामा, राजनाथ बोले- राहुल गांधी ने देश का किया अपमान, मांगें माफी

राहुल के बयान पर BJP का संसद में हंगामा, राजनाथ बोले- राहुल गांधी ने देश का किया अपमान, मांगें माफी

सत्ता पक्ष और विपक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा और लोकसभा की कार्रवाई दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

Text Size:

नई दिल्ली: संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण आज से शुरू हो गया है. इस दौरान राहुल गांधी के द्वारा लंदन में दिया गया बयान ‘संसद में माइक बंद कर दिया जाता है’ पर बीजेपी ने राहुल गांधी को घेरा. सत्ता पक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा और लोकसभा की कार्रवाई दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

बीजेपी ने मांग की कि राहुल गांधी देशवासियों से सदन में माफ़ी मांगें. राज्यसभा में पीयूष गोयल ने कहा कि राहुल गांधी एक प्रमुख विपक्षी नेता हैं. वह विदेश जाकर शर्मनाक तरीके से भारतीय लोकतंत्र पर हमला कर रहे हैं. उन्होंने भारत और संसद के लोगों का अपमान किया है. गोयल ने कहा, ‘हम मांग करते हैं कि राहुल गांधी संसद आएं और देश की जनता और सदन से माफी मांगें.

वहीं लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि इसी सदन के सदस्य राहुल गांधी ने लंदन में भारत का अपमान किया है. मैं मांग करता हूं कि उनके बयानों की इस सदन के सभी सदस्यों द्वारा निंदा की जानी चाहिए और उन्हें सदन के सामने माफी मांगने के लिए कहा जाना चाहिए.

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले, ‘कोई व्यक्ति जब देश के बाहर प्रधानमंत्री को अपमानित करता है तो वह देश को अपमानित करता है. जो लोकसभा में घंटों तक वक्तव्य दें और विदेश में जाकर कहें कि लोगों को बोलने नहीं दिया जाता, इस पर लोकसभा अध्यक्ष को कार्रवाई करनी चाहिए.’

केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल बोले, ‘लोकसभा में राहुल गांधी को जितना समय दिया गया था उससे ज्यादा वो बोले हैं, फिर कैसे कहते हैं कि उन्हें बोलने का अवसर नहीं दिया जाता. उन्होंने भारत के बाहर भारत का कितना अपमान किया.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए आगे कहा, ‘राहुल गांधी ने भारत के लोकतंत्र को बचाने के लिए दूसरे देश से हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया. ये भारत का, भारत के लोकतंत्र का और संसद का अपमान है. वो झूठ बोलकर इस देश का अपमान क्यों कर रहें?’

विपक्षी नेताओं को संसद में एकजुट रखने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने सोमवार को सत्र शुरू होने से पहले विपक्षी नेताओं की बैठक बुलाई. इस बैठक में सोनिया गांधी समेत कई बड़े नेता मौजूद रहे. इससे पहले खड़गे ने कहा था, ‘हम आज (संसद में) बेरोजगारी, महंगाई और ED-CBI के छापेमारी के मुद्दों को उठाएंगे. कर्नाटक में 40% का भ्रष्टाचार है, वहां पर उनका MLA रंगे हाथ पकड़ा गया लेकिन उन्हें छूट है और यहां 25-30 साल पुराने केस ढूंढ़ कर विपक्ष के सदस्यों को परेशान कर रहे हैं.’

माइक बंद करने से बड़ा और कोई झूठ नहीं

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को लंदन में कहा था कि लोकसभा में काम करने वाले माइक अक्सर विपक्ष के बोलने के दौरान बंद हो जाते हैं.

इस बयान को झूठ बताते हुए शनिवार को उप-राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने कहा था, कि कुछ लोग आरोप लगाते हैं कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की संसद में माइक बंद कर दिया जाता है, इससे बड़ा असत्य और कुछ नहीं हो सकता.

उपराष्ट्रपति ने ऐसा माहौल बनाने का आह्वान किया जहां राज्यसभा, लोकसभा, विधानसभा जैसे लोकतंत्र के मंदिरों के सदस्यों का व्यवहार अनुकरणीय होना चाहिए.

उपराष्ट्रपति ने आगे कहा, ‘आज राज्यसभा का सभापति होने के नाते मजबूरन मुझे कहना पड़ रहा है कि भारत की संसद में माइक बंद नहीं होता. हां एक समय था, एक काला अध्याय था, वह आपातकाल का समय था.’


यह भी पढ़ें: BJP से लेकर PMK तक तमिलनाडु में पदयात्रा का मौसम, पर सोशल मीडिया दौर में यह कॉन्सेप्ट बासी हो रहा


share & View comments