Monday, 17 January, 2022
होमराजनीतिकेंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग को लेकर देशभर में 'मौन' कांग्रेस

केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त करने की मांग को लेकर देशभर में ‘मौन’ कांग्रेस

देशभर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में मौन व्रत धरने पर बैठे हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के इस्तीफे की मांग को लेकर लखनऊ में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मौन व्रत पर बैठीं. देश के कई हिस्सों में कांग्रेस कार्यकर्ता भी मौन व्रत पर बैठे हैं.

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ट्वीट कर कहा, ‘गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त करने को लेकर कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी के नेतृत्व में गांधी प्रतिमा पर मौन धरना. लखीमपुर के किसानों को न्याय चाहिए, मुख्यमंत्री के झूठे बयान नहीं.’

देशभर में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में मौन व्रत धरने पर बैठे हैं.


यह भी पढ़ें: प्रियंका ने PM मोदी और योगी पर साधा निशाना, बघेल ने कहा- प्रियंका के नेतृत्व में बनेगी सरकार


उधर, कर्नाटक और गोवा में भी कांग्रेस कार्यकर्ता लखीमपुर खीरी के सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने और गृह राज्य मंत्री को पद से हटाने की मांग को लेकर मौन व्रत पर हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

एक बयान में कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में मंत्री की गाड़ी और उसके परिवार के सदस्यों ने निर्दयता से किसानों को मार डाला. गृह राज्य मंत्री और इस घटना के लिए जो दोषी जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई. इसीलिए हम किसानों के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं.’

इस प्रदर्शन में शिवकुमार, पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया समेत अन्य वरिष्ठ कांग्रेस नेता शामिल हैं उधर, गोवा में कांग्रेस कार्यकर्ता वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम के नेतृत्व में मौन व्रत पर बैठे हैं.

वहीं हरियाणा में भी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा के नेतृत्व में मौन व्रत रखकर गांधीवादी नीतियों का अनुसरण कर विरोध जताया.

इसके अलावा तेलंगाना, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और ओडिशा समेत अन्य राज्यों में मौन व्रत रख अपना विरोध दर्ज कराया.


यह भी पढ़ें: महंगे डीज़ल के पॉजिटिव साइड इफेक्ट्स? डीज़ल कारों से क्यों भारतीयों ने फेरा मुंह


महाराष्ट्र बंद

वहीं, महाविकास अघाड़ी ने किसानों के समर्थन और लखीमपुर खीरी की घटना के खिलाफ महाराष्ट्र बंद बुलाया है. बंद के दौरान सिर्फ आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद रहेगा. एहतियातन बेस्ट डिपो समेत ज्यादातर दुकानें बंद कर दी गई हैं. इस दौरान आठ बसों में पत्थरबाजी और तोड़फोड़ की गई है.

इस घटना पर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, ‘कुछ जगहों पर पत्थरबाजी की खबरें आ रही हैं, जो सही नहीं है. इस तरह के कृत्य में किसी को शमिल नहीं होना चाहिए…हम गृह राज्य मंत्री जय कुमार मिश्रा के इस्तीफे/बर्खास्त करने की मांग करते हैं.’

बता दें कि प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले को लेकर पिछले कई दिनों से उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाए हुए हैं. रविवार को प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणासी में ‘किसान न्याय रैली’ को संबोधित करते हुए भी उत्तर प्रदेश सरकार पर लखीमपुर खीरी के दोषियों को बचाने का आरोप लगाया था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि गृह राज्य मंत्री पद से अजय कुमार मिश्रा की बर्खास्तगी तक उनकी पार्टी की लड़ाई जारी रखेगी.

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में तीन अक्टूबर को उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे का किसान विरोध कर रहे थे. इसी दौरान किसानों पर अजय मिश्रा के बेटे आशिष मिश्रा ने किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी थी. इस घटना में चार किसानों समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी.

इसी दौरान लखीमपुर खीरी हिंसा मामले के पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए जाते समय प्रियंका गांधी को करीब दो दिन पुलिस हिरासत में रहने के बाद राहुल गांधी और प्रियंका ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी.

बता दें कि इस मामले में केंद्रीय गृह राज्य अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा समेत कई लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. आशीष को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था. सोमवार को आशीष को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है.


यह भी पढे़ें: दोषियों को बचा रही UP सरकार, PM मोदी ने लखनऊ में उत्सव मनाया लेकिन लखीमपुर नहीं गए: प्रियंका


 

share & View comments