scorecardresearch
Wednesday, 17 July, 2024
होमराजनीतिCM योगी ने कहा—हिंदुओं से माफी मांगे राहुल, प्रियंका बोलीं ‘मेरे भाई हिंदुओं का अपमान नहीं कर सकते’

CM योगी ने कहा—हिंदुओं से माफी मांगे राहुल, प्रियंका बोलीं ‘मेरे भाई हिंदुओं का अपमान नहीं कर सकते’

राहुल गांधी ने कहा, ‘सभी धर्मों और हमारे सभी महापुरुषों ने अहिंसा और निडरता की बात की है. वे कहते थे कि डरो मत, डराओ मत. शिवजी कहते हैं डरो मत, डराओ मत. वह अहिंसा की बात करते हैं, लेकिन जो लोग अपने आपको हिंदू कहते हैं वो 24 घंटे हिंसा, नफरत और असत्य की बात करते हैं.’

Text Size:

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकसभा में विपक्ष के नेता राहुल गांधी पर ‘भारत माता की आत्मा को लहूलुहान’ करने का सोमवार को आरोप लगाते हुए उनसे ‘विश्व के करोड़ों हिंदुओं से माफी’ की मांग की.

आदित्यनाथ ने हिंदुओं को सहिष्णुता और उदारता का पर्याय बताया तथा कांग्रेस पर “मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति में डूबे होने’ का आरोप लगाया.

लोकसभा में विपक्ष के नेता गांधी ने सदन में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि खुद को हिंदू कहने वाले हर समय ‘हिंसा और नफरत फैलाने’ में लगे हैं.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए आदित्यनाथ ने एक्स पर कहा, ‘‘हिंदू भारत की मूल आत्मा है. हिंदू सहिष्णुता, उदारता और कृतज्ञता का पर्याय है. गर्व है कि हम हिंदू हैं.’’

उन्होंने आरोप लगाया कि मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति में डूबी हुई, स्वयं को ‘एक्सीडेंटल हिंदू’ कहने वाली जमात के ‘शहजादे’ को यह बात भला कैसे समझ आएगी?

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘आपको विश्व के करोड़ों हिंदुओं से माफी मांगनी चाहिए राहुल जी! आपने आज एक समुदाय को नहीं, भारत माता की आत्मा को लहूलुहान किया है.’’

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण संबंधी धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए गांधी ने कहा, ‘‘सभी धर्मों और हमारे सभी महापुरुषों ने अहिंसा और निडरता की बात की है. वे कहते थे कि डरो मत, डराओ मत. शिवजी कहते हैं डरो मत, डराओ मत. वह अहिंसा की बात करते हैं. लेकिन जो लोग अपने आपको हिंदू कहते हैं वो 24 घंटे हिंसा, नफरत और असत्य की बात करते हैं.’’

इस पर सत्ता पक्ष के सदस्यों ने जोरदार तरीके से विरोध जताया और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पूरे हिंदू समाज को हिंसक कहना बहुत गंभीर बात है.

वहीं, इस पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि उनके भाई और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी कभी हिंदुओं का अपमान नहीं कर सकते और उन्होंने सदन में भारतीय जनता पार्टी एवं उसके नेताओं के बारे में बोला है.

प्रियंका सोमवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर राहुल गांधी के भाषण को सुनने संसद भवन पहुंची थीं.

नेता प्रतिपक्ष के तौर पर राहुल गांधी ने सदन में पहली बार किसी प्रस्ताव पर अपनी बात रखी.

उन्होंने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए यह भी कहा कि हिंदू कभी हिंसा नहीं कर सकता, कभी नफरत और डर नहीं फैला सकता.

राहुल गांधी ने जब भाजपा पर यह आरोप लगाया तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने आपत्ति जताते हुए कहा कि कांग्रेस नेता ने पूरे हिंदू समाज को हिंसक कहा है.

इस बारे में पूछे जाने पर प्रियंका गांधी ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘मेरे भाई कभी हिंदुओं का अपमान नहीं कर सकते. उन्होंने बहुत स्पष्ट बोला है. उन्होंने भाजपा और भाजपा के नेताओं के बारे में बात की है.’’


यह भी पढ़ें: ‘2024 के जनादेश ने मोदी के अहंकार को तोड़ दिया’ — संसद में बरसे खरगे, मणिपुर और नीट का भी ज़िक्र


 

share & View comments