Monday, 4 July, 2022
होमलास्ट लाफपीएम मोदी को अपनी 'परीक्षा' में कितने 'ग्रैड' मिले और पाकिस्तान यह जानकर हैरान है कि उसका एक संविधान है

पीएम मोदी को अपनी ‘परीक्षा’ में कितने ‘ग्रैड’ मिले और पाकिस्तान यह जानकर हैरान है कि उसका एक संविधान है

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के फीचर कार्टून में मंजुल पीएम नरेंद्र मोदी की ‘परीक्षा पे चर्चा’ पर तंज कस रहे हैं. वो दिखा रहे हैं पीएम मोदी खुद अपनी खराब रिपोर्ट कार्ड बच्चों से छुपा रहे हैं.

साजिथ कुमार | Deccan Herald

साजिथ कुमार पाकिस्तान में राजनीतिक संकट पर टिप्पणी कर रहे हैं. जिसमें पीएम इमरान खान ने रविवार को एक अविश्वास मत को ब्लॉक कर दिया था. जिसमें उनकी हार संभावनाएं थी. इसपर उन्होंने राष्ट्रपति को राष्ट्रीय और राज्य विधानसभाओं को भंग करने और नए चुनावों का आदेश देने की सलाह दी. इस लेकर विपक्ष इमरान सरकार की काफी आलोचना कर रहा है.

ई.पी. उन्नी | The Indian Express

ई.पी. उन्नी पाकिस्तान में राजनीतिक संकट को दर्शा रहे हैं. वो सुझाव दे रहे हैं कि इमरान का सत्ता से जाना जो एक पूर्व निष्कर्ष की तरह लग रहा था वो बार-बार बढ़ता जा रहा है.

आर. प्रसाद | Economic Times

आर. प्रसाद मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह द्वारा कार्यकर्ता इरोम शर्मिला चानू के योगदान को मानने पर टिप्पणी कर रहे हैं. इरोम ने सशस्त्र बल विशेष अधिकार अधिनियम, 1958 को निरस्त करने की अपनी मांग को दबाने के लिए लगभग 16 सालों तक उपवास किया था. संभावना है कि चानू को मणिपुर सरकार द्वारा सम्मानित किया जाएगा.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

कीर्तिश भट्ट | BBC News Hindi

कीर्तिश भट्ट ने श्रीलंका में अब डीजल की बिक्री नहीं होने की खबरों पर ध्यान दिलाने की कोशिश कर रहे हैं, जिसने परिवहन को पंगु बना दिया है क्योंकि देश के 22 मिलियन लोगों ने आर्थिक संकट के बीच सबसे लंबे बिजली ब्लैकआउट का सामना किया है. श्रीलंका अपनी आजादी के बाद से अपने सबसे खराब आर्थिक मंदी की चपेट में है.

(इन कार्टून्स को अंग्रेज़ी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments