Wednesday, 5 October, 2022
होमलास्ट लाफCBI के आगे आते ही ED पीछे हट सकता है व आराम कर सकता है और एक भूमि जहां अपराधी बेखौफ हों

CBI के आगे आते ही ED पीछे हट सकता है व आराम कर सकता है और एक भूमि जहां अपराधी बेखौफ हों

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के चित्रित कार्टून में, आलोक निरंतर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के आवास पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की छापेमारी की ओर इशारा करते हैं, जो आम आदमी पार्टी (आप) सरकार की अब वापस ली गई शराब नीति में भ्रष्टाचार के आरोपों की पृष्ठभूमि में है. वहीं मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा विपक्षी नेताओं की लगातार गिरफ्तारी के बाद ये शुरू हुई है.

Kirtish Bhatt | Twitter/@Kirtishbhat | BBC Hindi

बीबीसी हिंदी में कीर्तिश भट्ट ने आमिर खान अभिनीत लाल सिंह चड्ढा और अक्षय कुमार अभिनीत रक्षाबंधन सहित अन्य हिंदी फिल्मों के ‘बहिष्कार’ के बार-बार आह्वान पर चुटकी ली है. दृष्टांत में, एक महिला को अपने पति से यह कहते हुए देखा जा सकता है: ‘इस बहिष्कार के कारण हमने पिछले डेढ़ साल से कोई फिल्म नहीं देखी है! हम यह सब समझते हैं…”

Sandeep Adhwaryu | Twitter/@@CartoonistSan | The Times of India

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

संदीप अध्वर्यु, रवींद्रनाथ टैगोर की एक कविता का जिक्र करते हुए, बिलकिस बानो मामले में दोषी ठहराए गए 11 लोगों की रिहाई पर टिप्पणी करते हैं और केरल की एक अदालत द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोपी व्यक्ति के पक्ष में एक आदेश इस आधार पर दिया जाता है कि शिकायतकर्ता ने एक ‘उत्तेजक पोशाक पहने हुए थे.’

ई.पी. उन्नी ने मजाकिया अंदाज में कहा कि गृह मंत्रालय (एमएचए) ने पश्चिमी दिल्ली के बक्करवाला में रोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट, बुनियादी जरूरतें और चौबीसों घंटे सुरक्षा देने के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के फैसले को कैसे खारिज कर दिया.

साजिथ कुमार कर्नाटक के शिवमोग्गा शहर में 15 अगस्त को हिंदू महासभा के नेता विनायक दामोदर सावरकर और 18वीं शताब्दी के मैसूर शासक टीपू सुल्तान के चित्रों पर तनाव को लेकर प्रदर्शन को दिखाते हैं.

(इन कार्टून्स को अंग्रेजी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)
share & View comments