Wednesday, 29 June, 2022
होमदेश28 सालों बाद योगी ने घर पर बिताई रात, गुरु महंत अवैद्यनाथ का जिक्र कर आंखों में आए आंसू

28 सालों बाद योगी ने घर पर बिताई रात, गुरु महंत अवैद्यनाथ का जिक्र कर आंखों में आए आंसू

योगी आदित्यनाथ ने 28 सालों के बाद घर पर रात बिताई है. लेकिन हमेशा की तरह सुबह सुबह उठकर वह सैर करने निकले. उनके गांव में लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया.

Text Size:

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड में तीन दिन के दौरे पर हैं. इस दौरान पहले दिन वह पौड़ी जिले में अपने गांव पंचूरा पहुंचे, जहां वह अपने मां से मिले और पैर छूकर उन्होंने मां का आशीर्वाद लिया. वह कई साल बाद अपने गांव अपने घर पहुंचे हैं.

योगी आदित्यनाथ ने खुद मां के पैर छूते हुए फोटो अपने ट्विटर हैंडल से शेयर की. पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने भतीजे के मुंडन संस्कार में शामिल होने के लिए घर पहुंचे हैं. चूंकि घर में मुंडन है इसलिए घर में योगी की तीनों बहनें और भाई पहले से ही घर में मौजूद हैं.

अपने गांव के लड़के और यूपी के दो बार के मुख्यमंत्री के आने की खुशी में गांव के लोगों में खुशी का माहौल दिखा और उन्होंने योगी आदित्यनाथ का भव्य तरीके से स्वागत किया.

सुबह-सुबह सैर के लिए निकले योगी आदित्यनाथ

हालांकि, यहां भी योगी आदित्यनाथ ने अपने रोज़ को रूटीन को जारी रखा. हमेशा की तरह वे सुबह-सुबह सोकर उठ गए और सैर के लिए निकल गए. इस दौरान कुछ अन्य लोग भी थे. रास्ते में कुछ लोगों ने उनके साथ फोटो भी खिंचवाई.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें


यह भी पढ़ेंः काठमांडू के नाइट क्लब में मौजूद राहुल गांधी का वीडियो आया सामने, कांग्रेस ने कहा- शादी में शरीक होने गए


यमकेश्वर में किया महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण

विजिट के पहले दिन पौड़ी-गढ़वाल के यमकेश्वर में उन्होंने महायोगी गुरु गोरखनाथ महाविद्यालय विथ्यानी में आध्यात्मिक गुरु महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा का अनावरण किया. इस दौरान अपने गुरु का जिक्र करते हुए योगी आदित्यनाथ काफी भावुक नज़र आए. यहां उन्होंने अपने गुरुजनों का सम्मान भी किया उन्होंने ट्वीट किया, ‘आज मुझे यमकेश्वर, पौड़ी-गढ़वाल, उत्तराखंड में अपने स्कूल के गुरुजन के दर्शन एवं उनका सम्मान करने का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ.’

इस दौरान उनके साथ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और धन सिंह रावत भी मौजूद थे.


यह भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के वास्तविक नाम से शपथ लेने के निर्देश के अनुरोध वाली याचिका खारिज


28 साल बाद घर पर बिताई रात

बता दें कि मुख्यमंत्री बनने के बाद वह पहली बार अपने घर जा रहे हैं. पिछले साल पिता का निधन होने पर भी वे कोविड प्रोटोकॉल के चलते घर नहीं गए थे और न ही पिता के अंतिम संस्कार में भाग ले सके थे. इससे पहले वो साल 2017 के यूपी विधानसभा चुनावों के पहले घर गए थे.

हालांकि, उस वक्त भी उन्होंने वहां रात नहीं बिताई थी. अब करीब 28 सालों बाद उन्होंने अपने घर में रात्रि निवास किया है.

5 मई को योगी आदित्यनाथ हरिद्वार में होंगे जहां वो यूपी टूरिज़म कॉर्पोरेशन द्वारा एनएच-58 के नजदीक गंगा नहर के पास बनाए गए भागीरथी होटल का उद्घाटन करेंगे. जबकि 6 मई को एक मीटिंग करने के बाद वे अपने प्रदेश यूपी के लिए रवाना हो जाएंगे.


यह भी पढ़ेंः साक्षी महाराज ने योगी आदित्यनाथ की तुलना भगवान राम और कृष्ण से की


share & View comments