Tuesday, 25 January, 2022
होमदेशअपराध'बुली बाई' ऐप मामले में अरेस्ट हुई श्वेता सिंह कैंसर और कोरोना में खो चुकी हैं अपने मां-बाप

‘बुली बाई’ ऐप मामले में अरेस्ट हुई श्वेता सिंह कैंसर और कोरोना में खो चुकी हैं अपने मां-बाप

18 साल की श्वेता सिंह को उत्तराखंड के रुद्रपुर से अरेस्ट किया गया है. अरेस्ट करने बाद उसे पूछताछ के लिए मुंबई ले जाया गया है.

Text Size:

नई दिल्ली: ‘बुली बाई’ ऐप पर मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड कर ऑनलाइन बोली लगाने का मामला लगातार बढ़ता ही जा रहा है. इस मामले में पुलिस अब तक तीन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इस केस में 18 साल की एक लड़की श्वेता सिंह को भी अरेस्ट किया गया है. ऐसे मामले में लड़की के सलिंप्त होने पर सोशल मीडिया पर लोग अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं.

18 साल की श्वेता सिंह को उत्तराखंड के रुद्रपुर से अरेस्ट किया गया है. अरेस्ट करने बाद उसे पूछताछ के लिए मुंबई ले जाया गया है. पुलिस का कहना है कि इस पूरी घटना के पीछे श्वेता ही मास्टरमाइंड हो सकती हैं. पुलिस ने बताया कि इस ऐप से जुड़े कई अकाउंट मिले हैं जिन्हें श्वेता हैंडल करती थी.

कोरोना और कैंसर में खोए मां-बाप

इस पूरे मामले में मास्टरमाइंड बताई जा रही श्वेता सिंह कोरोना से अपने पिता और कैंसर से अपनी मां को खो चुकी हैं. श्वेता की एक बड़ी बहन है जो कॉमर्स ग्रेजुएट है. वहीं श्वेता के छोटे भाई-बहन स्कूल में पढ़ाई करते हैं.

श्वेता खुद इंजीनियरिंग एंट्रेस एग्जाम की तैयारी कर रही थीं.

श्वेता के उम्र को लेकर सोशल मीडिया पर लोग हैरान हो रहे हैं. कुछ लोग इस बात से ताज्जुब कर रहे हैं कि कैसे एक 18 साल की लड़की के मन में एक समुदाय की महिलाओं के प्रति इतनी नफरत हो सकती है. तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो उसकी उम्र और उसके मां-बाप के न होने की बात सुनकर उससे सिम्पथी कर रहे हैं. ऐसे लोगों में मशहूर गीतकार जावेद अख्तर भी शामिल हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

जावेद अख्तर ने श्वेता सिंह को माफ करने के लिए कहा

आज अपने नए ट्वीट में जावेद अख़्तर ने लिखा है, ‘अगर बुली बाई ऐप की मास्टरमाइंड सच में 18 साल की लड़की है, जिसके माता-पिता की कैंसर और कोरोना से मौत हो गई थी तो उससे लोगों को मिलना चाहिए और बड़ों की तरह समझाना चाहिए कि उसने जो कुछ किया वो गलत था. दया दिखाते हुए माफ़ कर देना चाहिए.’

इससे पहले तीन जनवरी को एक और ट्वीट में जावेद अख़्तर ने कहा था, ‘सैकड़ों महिलाओं की ऑनलाइन बोली लग रही है. कथित धर्म संसद में 20 करोड़ भारतीयों के जनसंहार की अपील की जा रही है. ऐसी स्थिति में चुप्पी और खासकर प्रधानमंत्री की खामोशी परेशान करने वाली है. क्या यही सबका साथ है?’

तीन लोग गिरफ्तार

मुंबई के पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले ने बुधवार को यहां कहा कि ‘बुली बाई’ ऐप मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नागरले ने बताया, ‘बुली बाई’ एप मामले में विशाल झा और श्वेता सिंह समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. तीसरा आरोपी श्वेता का दोस्त है. कुछ और लोग भी इस मामले में शामिल हो सकते हैं.

पुलिस ने बताया कि दूसरे आरोपी विशाल झा ने खालसा समर्थक के नाम से एक अकाउंट बनाया था जिससे ऐसा लग सके कि इसके पीछे सिख समुदाय का हाथ है. पुलिस ने बताया कि उनके पास इलेक्ट्रोनिक सबूत हैं और उन्होंने यह भी बताया कि इस मामले और लोग भी शामिल हो सकते हैं.


यह भी पढ़ें- ‘बुली बाई’ ऐप मामले में 3 गिरफ्तार- तीसरा आरोपी लड़की का दोस्त, और लोग हो सकते हैं शामिल : मुंबई पुलिस चीफ


 

share & View comments