Wednesday, 5 October, 2022
होमदेश'खालिस्तानी' झंडे की घटना के बाद हिमाचल ने सील की सीमाएं, हाई अलर्ट पर पुलिस

‘खालिस्तानी’ झंडे की घटना के बाद हिमाचल ने सील की सीमाएं, हाई अलर्ट पर पुलिस

एसपी कांगड़ा, खुशाल शर्मा ने कहा कि हो सकता है कि यह घटना आज देर रात या सुबह हुई हो. हमने विधानसभा गेट से खालिस्तान के झंडे हटा दिए हैं, यह पंजाब के कुछ पर्यटकों की हरकत हो सकती है.

Text Size:

शिमला (हिमाचल प्रदेश): हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मुख्य द्वार और दीवारों पर ‘खालिस्तान’ के झंडे बंधे पाए जाने के बाद, राज्य पुलिस ने रविवार को अंतरराज्यीय सीमाओं को सील करने के आदेश जारी किए.

पुलिस ने झंडे की घटना धर्मशाला पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 153-ए और 153-बी, एचपी ओपन प्लेसेस (डिफिगरेशन की रोकथाम) अधिनियम, 1985 की धारा 3 और गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) की धारा 13 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है. पुलिस ने प्रतिबंधित संगठन ‘सिख फॉर जस्टिस’ (एसएफजे) के जनरल काउंसल गुरपतवंत सिंह पन्नून के खिलाफ मामला दर्ज किया और उन्हें मामले में ‘मुख्य आरोपी’ बताया है.

‘एडीजीपी-सीआईडी, आईजी/डीआईजी रेंज और जिला एसपी को सभी अंतरराज्यीय सीमाओं/बाधाओं को सील करने और संभावित ठिकाने यानी होटल और सराय आदि स्थानों पर कड़ी निगरानी रखने का निर्देश दिया गया है. उन्हें विशेष सुरक्षा इकाइयों (एसएसयू) को रखने के निर्देश दिए गए हैं.

फील्ड फॉर्मेशनों को निर्देश दिया गया है कि वे सभी सुरक्षा कर्मचारियों और सरकारी भवनों, बैंकों और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के चौकीदारों को खतरे के संबंध में संवेदनशील बनाएं और उन्हें सलाह दी जाए कि वे किसी भी चिंता के मामले की सूचना तुरंत स्थानीय पुलिस स्टेशन को दें.

इससे पहले दिन में रविवार सुबह धर्मशाला में हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मुख्य द्वार और चारदीवारी पर ‘खालिस्तान’ के झंडे बंधे मिले थे.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

घटना के सामने आने के तुरंत बाद, एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि फाटकों और दीवारों से झंडे हटा दिए गए हैं.

एसपी कांगड़ा, खुशाल शर्मा ने कहा कि हो सकता है कि यह घटना आज देर रात या सुबह हुई हो. हमने विधानसभा गेट से खालिस्तान के झंडे हटा दिए हैं, यह पंजाब के कुछ पर्यटकों की हरकत हो सकती है, हम आज केस दर्ज करने जा रहे हैं.


यह भी पढ़ें : प्रतिबंधित संगठन SFJ की ओर से धमकी के बाद ‘खालिस्तान’ ने हिमाचल प्रदेश में सर उठाया


 

share & View comments