Wednesday, 19 January, 2022
होमदेशविराट-अनुष्का की नन्ही बेटी के ‘बलात्कार की धमकी’ के आरोप में हैदराबाद का व्यक्ति गिरफ्तार

विराट-अनुष्का की नन्ही बेटी के ‘बलात्कार की धमकी’ के आरोप में हैदराबाद का व्यक्ति गिरफ्तार

23 वर्षीय अभियुक्त अकुबाथिनी रामानागेश को मुम्बई लाया जाएगा, जहां उसे कस्टडी के लिए स्थानीय अदालत के सामने पेश किया जाएगा.

Text Size:

मुम्बई: मुम्बई पुलिस साइबर सेल ने बुधवार को हैदराबाद-स्थित एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया, जिसने टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान के हाथों भारत की हार के बाद, भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली की नन्ही बेटी के रेप की ऑनलाइन धमकी दी थी.

23 वर्षीय अभियुक्त अकुबाथिनी रामानागेश को मुम्बई लाया जाएगा, जहां उसे कस्टडी के लिए स्थानीय अदालत के सामने पेश किया जाएगा.

बुधवार को मीडिया के लिए जारी एक बयान में, मुम्बई साइबर सेल ने कहा: ‘भारतीय क्रिकेट टीम कप्तान और सिनेमा आर्टिस्ट अनुष्का शर्मा की 10 महीने की बेटी के बारे में एक आपत्तिजनक ट्वीट करके, उसने एक ऐसी हरकत को अंजाम दिया है, जिससे किसी भी महिला को शर्म महसूस होगी और उसके माता-पिता की बदनामी होगी’.

पुलिस ने अभियुक्त के खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की, विभिन्न धाराओं के अंतर्गत मुक़दमा क़ायम किया है.

भारतीय क्रिकेट टीम के टी-20 मुकाबले में पाकिस्तान से हारने के बाद, एक ट्विटर हैण्डल ‘क्रिकेज़ीगर्ल’ से जिसका नाम ‘आमेना’ था, 24 अक्टूबर को कोहली और अनुष्का शर्मा की बेटी के रेप की धमकी जारी की गई, और उसके फोटोग्राफ्स दिखाने को कहा गया.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

हालांकि ट्विटर हैण्डल जल्द ही हटा दिया गया, लेकिन ट्वीट के स्क्रीनशॉट्स वायरल हो गए. बहुत से यूज़र्स ने दावा किया कि ट्विटर हैण्डल एक पाकिस्तानी स्वचालित कार्यक्रम था.

कोहली की ओर से उनके मैनेजर ने 8 नवंबर को, पश्चिम ज़ोन साइबर पुलिस सेल में एक एफआईआर दर्ज करा दी.


यह भी पढ़ें: सीमा शुल्क, सेवा कर, ड्रग्स: बॉलीवुड मुसीबत में है तो समीर वानखेड़े, IRS, वहां ज़रूर होंगे


शमी विवाद

ये विवाद उस समय खड़ा हुआ, जब सोशल मीडिया ट्रोल्स में मोहम्मद शमी को निशाना बनाकर धर्म के नाम पर कीचड़ उछाली गई, जो पाकिस्तान के खिलाफ भारत की प्लेइंग इलेवन के अकेले मुसलमान खिलाड़ी थे.

कोहली ने पत्रकारों को बताया, ‘मैं कहूंगा कि धर्म के आधार पर किसी को निशाना बनाना, बहुत ही ख़राब चीज़ है जो कोई कर सकता है…मोहम्मद शमी ने पिछले कुछ सालों में भारत को बहुत सारे मुक़ाबले जिताए हैं, और जब टेस्ट क्रिकेट में असर डालने की बात आती है, तो जसप्रीत बुमराह के साथ मिलकर, वो हमारे प्रमुख गेंदबाज़ रहे हैं’.

उन्होंने आगे कहा, ‘अगर लोग उसकी अनदेखी कर सकते हैं…तो सच कहूं कि मैं ऐसे लोगों को तवज्जो देकर, अपने जीवन का एक मिनट भी बरबाद नहीं करना चाहता, और न ही शमी या टीम में कोई और ऐसा चाहता है’.

(इस ख़बर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments