Saturday, 21 May, 2022
होमदेशअर्थजगतजनवरी-मार्च 2021 में बेरोजगारी दर बढ़कर 9.3 प्रतिशत हुई: NSO सर्वे

जनवरी-मार्च 2021 में बेरोजगारी दर बढ़कर 9.3 प्रतिशत हुई: NSO सर्वे

सर्वे से पता चला कि शहरी क्षेत्रों में महिलाओं की बेरोजगारी दर जनवरी-मार्च 2021 में बढ़कर 11.8 प्रतिशत हो गई जो एक साल पहले 10.6 प्रतिशत थी.

Text Size:

नई दिल्ली: शहरी क्षेत्रों में सभी उम्र के लोगों की बेरोजगारी दर जनवरी-मार्च 2021 में बढ़कर 9.3 प्रतिशत पहुंच गई, जो पिछले साल इसी अवधि में 9.1 प्रतिशत थी. नेशनल स्टेटिस्टिक्स ऑफिस (एनएसओ) के एक निश्चित अवधि पर होने वाले पीरियोडिक लेबर फोर्स सर्वे में यह पता चला है.

बेरोजगारी दर को लेबर फोर्स में बेरोजगार लोगों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया जाता है.

नौवें पीरियोडिक लेबर फोर्स सर्वे (पीएलएफएस) के मुताबिक 15 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए शहरी क्षेत्रों में सीडब्ल्यूएस (वर्तमान साप्ताहिक स्थिति) के हिसाब से बेरोजगारी दर अक्टूबर-दिसंबर 2020 में 10.3 प्रतिशत थी.

सर्वे से यह भी पता चला कि शहरी क्षेत्रों (15 वर्ष और उससे अधिक उम्र) में महिलाओं की बेरोजगारी दर जनवरी-मार्च 2021 में बढ़कर 11.8 प्रतिशत हो गई जो एक साल पहले 10.6 प्रतिशत थी. वहीं अक्टूबर-दिसंबर 2020 में यह 13.1 प्रतिशत थी.

पुरुषों के मामलों में यह एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में जनवरी-मार्च 2021 में 8.6 प्रतिशत पर स्थिर बनी रही. अक्टूबर-दिसंबर में यह बेरोजगारी दर 9.5 प्रतिशत थी.


यह भी पढ़ें: युवाओं की बेरोजगारी के मामले में सबसे अमीर केरल और सबसे गरीब बिहार एक जैसे


 

share & View comments