Tuesday, 25 January, 2022
होमदेशअर्थजगतरिलायंस ने बॉन्ड इश्यू में जुटाए 4 अरब डॉलर, भारत का अब तक का सबसे बड़ा विदेशी मुद्रा बॉन्ड

रिलायंस ने बॉन्ड इश्यू में जुटाए 4 अरब डॉलर, भारत का अब तक का सबसे बड़ा विदेशी मुद्रा बॉन्ड

रिलायंस इंडस्ट्रीज के बॉन्ड को साख निर्धारण करने वाली एजेंसी एस एंड पी ने बीबीबी प्लस और मूडीज ने बीएए2 रेटिंग दी थी.

Text Size:

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने गुरुवार को कहा कि उसने विदेशी मुद्रा में बॉन्ड जारी करके चार अरब अमेरिकी डॉलर (30,000 करोड़ रुपए) का कर्ज जुटाया है. यह किसी भारतीय कंपनी द्वारा जारी अब तक का सबसे बड़ी राशि का विदेशी मुद्रा बॉन्ड था.

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा, ‘बॉन्ड इश्यू को 11.5 अरब डॉलर के साथ करीब तीन गुना अभिदान मिला.’ रिलायंस की विदेशी मुद्रा मूल्य में जारी बॉन्ड से जुटाई गई राशि का इस्तेमाल मौजूदा कर्ज को चुकाने में करने की योजना है.

यह किसी भारतीय कंपनी द्वारा जारी अब तक का सबसे बड़ी राशि का विदेशी मुद्रा बॉन्ड था. इससे पहले ओएनजीसी विदेश लिमिटेड ने वर्ष 2014 में अमेरिकी मुद्रा में बॉन्ड जारी कर 2.2 अरब डॉलर जुटाए थे.

कंपनी ने 10 साल के लिए 1.5 अरब डॉलर 2.875 प्रतिशत ब्याज, 30 साल के लिए 1.75 अरब डॉलर 3.625 प्रतिशत ब्याज और 40 साल के लिए 75 करोड़ डॉलर 3.75 प्रतिशत ब्याज पर जुटाए. इस तरह इसकी भुगतान अवधि 2032 से 2062 के बीच है.

यह पहली बार है कि जापान के बाहर बीबीबी-रेटिंग वाली किसी एशियाई कंपनी ने 40 साल की अवधि वाला डॉलर बॉन्ड जारी किया.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

रिलायंस इंडस्ट्रीज के बॉन्ड को साख निर्धारण करने वाली एजेंसी एस एंड पी ने बीबीबी प्लस और मूडीज ने बीएए2 रेटिंग दी थी.

रिलायंस के बयान के अनुसार इस बॉन्ड के जरिए एशिया से 53 प्रतिशत, यूरोप से 14 प्रतिशत और अमेरिका से 33 प्रतिशत राशि जुटाई गई.


यह भी पढ़ें: सॉफ्टवेयर कंपनियों की कमाई दिसंबर तिमाही में 2.6 से छह प्रतिशत तक बढ़ेगी: रिपोर्ट


share & View comments