Wednesday, 25 May, 2022
होमदेशकेंद्र के नहले पर सीएम केजरीवाल का दहला, वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए करेंगे C- 40 को संबोधित

केंद्र के नहले पर सीएम केजरीवाल का दहला, वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए करेंगे C- 40 को संबोधित

संबोधन के दौरान सीएम केजरीवाल दिल्ली में प्रदूषण कम करने के अनुभवों को साझा करेंगे और ऑड-ईवन की सफलता के बारे में भी बताएंगे.

Text Size:

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को डेनमार्क के कोपेनहेगन में होने वाले सी 40 जलवायु सम्मेलन में हिस्सा लेने जाना था. लेकिन, विदेश मंत्रालय ने इसके लिए मंज़ूरी देने से मना कर दिया. जिसके कारण शिखर सम्मेलन को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करेंगे.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने समिट के आयोजकों का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करने का अनुरोध स्वीकार कर लिया है. शिखर सम्मेलन के सत्र ‘गहरी सांस लें, स्वच्छ हवा के लिए शहर का समाधान’ के दौरान मुख्यमंत्री का संबोधन होगा. जिसमें वह दुनिया के छह प्रमुख शहरों के मेयरों के साथ शुक्रवार को दोपहर 12 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे.

विदेश मंत्रालय ने मुख्यमंत्री केजरीवाल को अनुमति देने से मना करते हुए एक बयान में ये हवाला दिया था कि जिस स्तर (मेयर) के प्रतिनिधि इसमें हिस्सा ले रहे हैं. उसमें दिल्ली के सीएम का जाना सही नहीं होगा. कार्यक्रम में दिल्ली के सीएम के अलावा अहम लोगों में पेरिस, लॉस एंजिल्स, कोपेनहेगन, बार्सिलोना, पोर्टलैंड और लीमा जैसे शहरों के मेयर भी शामिल होंगे.

इसी मुद्दे पर भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ट्वीट किया था, ‘मालिक अरविंद केजरीवाल जी कृपा कर जनता को ये बताएंगे कि मेयर समिट में ये आठ लोग क्या करते और इनका ख़र्चा राज्य सरकार क्यों देती? मतलब दिल्ली की जनता के टैक्स के पैसों पे आप घूमने के लिए इतने उतावले क्यों थे जी?’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

विदेश मंत्रालय द्वारा आदेश नहीं दिए जाने और भाजपा की टिप्पणियों का सीएम ने जवाब नहीं दिया. पिछले आम चुनाव में दिल्ली में करारी शिकस्त झेलने के बाद से सीएम केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी पर सीधे तौर पर कोई हमला नहीं किया. इस चुप्पी को अगले साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की रणनीति के तौर पर देखा जा रहा.

हालांकि, आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा, ‘सम्मेलन में जाने से मना करना केजरीवाल का नहीं बल्कि दिल्ली की जनता का अपमान है क्योंकि प्रदूषण कम करने में दिल्ली की जनता का बहुत बड़ा योगदान है. एक तरफ जहां दुनिया में प्रदूषण बढ़ रहा है वहीं दिल्ली में यह 25 प्रतिशत कम हुआ. भारत की ये उपलब्धि दुनिया को क्यों नहीं बताई जानी चाहिए?’

सिंह ने यह सवाल भी किया कि ऐसे ही कार्यक्रमों में दिल्ली की दिवंगत सीएम शीला दीक्षित आख़िर कैसे जाया करती थीं, साथ ही ये जानकारी भी दी कि ऐसा पहली बार नहीं है जब उनकी पार्टी के नेताओं को विदेश जाने से रोका गया है. इसके पहले शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की विदेश यात्राओं में भी अड़ंगा लगाया गया था.

दिल्ली में प्रदूषण कम करने का अनुभव साझा करेंगे केजरीवाल

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधन के दौरान सीएम केजरीवाल दिल्ली में प्रदूषण कम करने के अनुभवों को साझा करेंगे और ऑड-ईवन की सफलता के बारे में भी बताएंगे. आम आदमी पार्टी (आप) का दावा है कि पूरी दुनिया में दिल्ली ही ऐसा शहर है, जहां ऑड-ईवन सफल रहा है. जिससे वायु प्रदूषण में कमी आई.

दिल्ली में ऑड-ईवन में ऑड-ईवन की शुरूआत 2016 में हुई थी और इस साल भी चार से 15 नवंबर के बीच इसे लागू करने की योजना है. जब प्रदूषण कम होेने की जानकारी सामने आई थी और दिल्ली सरकार ने इसका श्रेय लेने की कोशिश की थी, तब केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी ने कहा था कि दिल्ली सरकार का ऑड-ईवन फॉर्मूला किसी काम नहीं आया और प्रदूषण कम होने के पीछे केंद्र की नीतियां बड़ी वजह हैं.

सी 40 सम्मेलन पर्यावरण से जुड़ी साहसिक जलवायु कार्रवाई करने अधिक स्थायी भविष्य बनाने के लिए दुनिया के 90 से अधिक शहरों को जोड़ने वाला कार्यक्रम है. ये शहर 70 करोड़ से अधिक नागरिकों और वैश्विक अर्थव्यवस्था के एक चौथाई का प्रतिनिधित्व करते हैं. सी 40 शहरों के मेयर स्थानीय स्तर पर पेरिस समझौते के सबसे महत्वाकांक्षी लक्ष्यों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. ये सम्मेलन 9 अक्टूबर को शुरू होगा और 12 अक्टूबर तक चलेगा.

share & View comments