Monday, 6 December, 2021
होमदेशअपराधमहिला पहलवान निशा दहिया की हत्या मामले में मुख्य आरोपियों को पुलिस रिमांड में भेजा गया

महिला पहलवान निशा दहिया की हत्या मामले में मुख्य आरोपियों को पुलिस रिमांड में भेजा गया

सोनीपत जिले में बुधवार को एक कुश्ती अकैडमी में कुछ हमलावरों ने गोलीबारी कर पहलवान निशा दहिया और उनके भाई की हत्या कर दी थी जबकि इस हमले में मां घायल हो गई थीं.

Text Size:

सोनीपत: हरियाणा में सोनीपत जिले की खरखौदा थाना पुलिस ने एक महिला पहलवान और उनके भाई की हत्या मामले में मुख्य आरोपियों कोच पवन और सचिन को गिरफ्तार कर लिया है और अदालत ने उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

खरखौदा के सहायक पुलिस अधीक्षक डॉ. मयंक गुप्ता ने बताया कि पिछले 10 नवंबर को हलालपुर गांव निवासी धनपति ने पुलिस को दी शिकायत में एक कुश्ती अकैडमी के कोच पवन, उसकी पत्नी, सचिन, अमित पर अपनी बेटी निशा दहिया और बेटे सूरज की गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया था. इस हमले में धनपति भी घायल हो गई थीं.

सोनीपत के पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने इस घटना को गम्भीरतापूर्वक लेते हुए अलग-अलग टीमों का गठन किया और जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी के सख्त आदेश दिए थे. इसके बाद पुलिस ने आरोपी कोच की पत्नी सुजाता और अमित को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. उन्हें अदालत में पेश किया गया था जहां सुजाता को एक दिन की पुलिस रिमांड और अमित को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया था.


यह भी पढ़ें:हरियाणा में रेसलर की मां का आरोप- ‘कोच ने पहले निशा को एकेडमी बुलाया, छेड़छाड़ की, फिर गोली मार दी’


पुलिस ने मुख्य आरोपी कोच पवन और सचिन को भी गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों को अदालत में पेश किया गया जहां उन्हें तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है.

गौरतलब है कि सोनीपत जिले में बुधवार को एक कुश्ती अकैडमी में कुछ हमलावरों ने गोलीबारी कर विश्वविद्यालय स्तर की पहलवान निशा दहिया और उनके भाई की हत्या कर दी थी जबकि इस हमले में मां घायल हो गई थीं. घटना के बाद गुस्साए गांववालों ने अकैडमी में आग लगा दी थी.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

जिस महिला पहलवान की हत्या की गई, उनकी पहचान को लेकर भ्रम पैदा हो गया था और कई खबरों में उन्हें हाल ही में अंडर-23 वर्ग की विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली पहलवान बता दिया गया था. कांस्य पदक विजेता पहलवान का नाम भी निशा दहिया ही है.

पुलिस ने संदेह जताया था कि हलालपुर इलाके में हुई इस गोलीबारी की घटना के पीछे अकैडमी का कोच-सह-मालिक है.


यह भी पढ़ें: चुराचांदपुर हमले में पांच जवान समेत 7 की मौत, राहुल ने कहा ‘मोदी सरकार राष्ट्र की सुरक्षा करने में असमर्थ’


 

share & View comments