BHU-1
बीएचयू कर्मचारी का पुत्र गौरव गोली लगने के बाद मौत, प्रदर्शन कर रहे हैं छात्र/ प्रशांत श्रीवास्तव
Text Size:

लखनऊ/वाराणसी: वाराणसी स्थित बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छात्र की हत्या के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई है. दरअसल बीते मंगलवार की शाम बीएचयू के बिड़ला हॉस्टल के सामने छात्र गौरव सिंह को बाइक सवार बदमाश गोली मारकर फरार हो गए. गोली लगने से गंभीर रूप से घायल छात्र की इलाज के दौरान मौत हो गई है. छात्र गौरव की हत्या के मामले में बीएचयू की चीफ प्रॉक्टर रोयना सिंह समेत 4 नामजद और 2 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है.

बाइक सवार बदमाशों ने मारी गोली

दरअसल मंगलवार शाम एमसीए चतुर्थ सेमेस्टर का छात्र अपने साथियों के साथ बातचीत कर रहा था. इसी समय बाइक सवार बदमाश आये और गौरव को गोली मार कर फरार हो गये. बीएचयू कर्मचारी का पुत्र गौरव गोली लगने के बाद वहीं गिर कर तड़पने लगा. उसे आनन-फानन में बीएचयू के ही अस्पताल पहुंचाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. गौरव की मौत की सूचना पाते ही साथी छात्रों के साथ अन्य स्टूडेंट ट्रॉमा सेंटर में जुट गए. छात्रों के गुस्से को देखते हुए मौके पर पुलिस के साथ ही पीएसी और पारा मिलिट्री फोर्स को भी रात 12:30 बजे के करीब बुला लिया गया था.

इस बीच तनाव को देखते हुए बीएचयू प्रशासन ने बुधवार को अवकाश की घोषणा कर दी लेकिन आक्रोषित छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. मामले में पुलिस में बीएचयू कैंपस से चार संदिग्ध युवकों को हिरासत में लिया है. पकड़े गए संदिग्धों से पूछताछ कर रही है. सूत्रों के मुताबिक चीफ प्रॉक्टर प्रो. रोयाना सिंह को हटाया जा सकता है.

प्रॉक्टर समेत पांच पर एफआईआर दर्ज

वाराणसी कैंट के सीओ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि यह मामला आपसी रंजिश का है, पुलिस ने लंका पुलिस ने बुधवार को गौरव के पिता की तहरीर पर बीएचयू चीफ प्रॉक्टर समेत पांच लोगों के खिलाफ नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. आशुतोष त्रिपाठी, कुमार मंगलम, रूपेश तिवारी और विनय द्विवेदी का नाम आरोपियों में शामिल है. इस घटना से जुड़े अन्य छात्रों को हिरासत में लेकर मामले की पूछताछ जारी है. पुलिस ने कैंपस के बाहर कड़ी सुरक्षा लगा दी है.


Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here