Wednesday, 29 June, 2022
होमदेश20वीं पशुगणना रिपोर्ट, देश में 18 फीसदी बढ़ी गायों की संख्या

20वीं पशुगणना रिपोर्ट, देश में 18 फीसदी बढ़ी गायों की संख्या

देश में पशुगणना हर पांच साल पर होती है. भारत में पहली बार 1919-20 में पशुगणना हुई थी. इसके बाद दूसरी पशुगणना 1924-25 में.

Text Size:

नई दिल्ली : देशभर में गायों की संख्या में 2012 के बाद तकरीबन 18 फीसदी की वृद्धि हुई है. पशुगणना की हालिया रिपोर्ट के अनुसार, भारत में गायों की आबादी 14.51 करोड़ है. यह जानकारी 20वीं पशुगणना की रिपोर्ट में दी गई है. पिछली पशुगणना के मुकाबले 20वीं पशुगणना में सभी पशुधन की आबादी 4.6 फीसदी की वृद्धि के साथ 53.57 करोड़ टन हो गई है.

केंद्रीय पशुपालन मंत्रालय द्वारा बुधवार को 20वीं पशुगणना की विस्तृत रिपोर्ट जारी की जाएगी. एक आधिकारिक सूत्र ने बताया कि इस बार पशुगणना में प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया गया. टैबलेट के माध्यम से देशभर में पशुगणना की गई है.

देश में पशुगणना हर पांच साल पर होती है. भारत में पहली बार 1919-20 में पशुगणना हुई थी. इसके बाद 1924-25 में दूसरी बार. आजादी के बाद प्रथम पशुधन गणना 1951 में आयोजित की गई तथा उत्तरोत्तर हर पांचवें वर्ष यह गणना आयोजित की जाती है.


यह भी पढ़ें : गोवध पर पाबंदी लगाने में मुसलमान कभी बाधक नहीं रहे


पशुधन गणना के क्रम में वर्तमान पशुधन गणना 2017 पशुधन गणना की 20वीं कड़ी की रिपोर्ट है. पिछली बार की पशुगणना 2007-12 में हुई थी.

share & View comments