Saturday, 21 May, 2022
होमहेल्थओमीक्रॉन के खतरे के बीच देश में COVID के मरीजो की संख्या में गिरावट, 24 घंटों में 7,350 केस दर्ज

ओमीक्रॉन के खतरे के बीच देश में COVID के मरीजो की संख्या में गिरावट, 24 घंटों में 7,350 केस दर्ज

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 202 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,75,636 हो गई.

Text Size:

नई दिल्ली: देश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 7,350 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3,46,97,860 हो गई तथा उपचाराधीन मरीजों की संख्या गिरकर 91,456 हो गई जो 561 दिनों में सबसे कम है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, 202 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 4,75,636 हो गई. देश में लगातार 46 दिन से संक्रमण के दैनिक मामलों की संख्या 15,000 से नीचे है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 91,456 हो गई, जो कि कुल मामलों का 0.26 फीसदी है और यह मार्च, 2020 के बाद से सबसे कम है. वहीं, राष्ट्रीय स्तर पर मरीजों के स्वस्थ होने की दर 98.37 फीसदी है और यह मार्च, 2020 के बाद से सबसे ज्यादा है.

पिछले 24 घंटों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 825 की कमी हुई है. दैनिक संक्रमण दर 0.86 फीसदी है. यह पिछले 70 दिनों से दो फीसदी से नीचे है. मंत्रालय के अनुसार, साप्ताहिक संक्रमण दर 0.69 फीसदी है जो कि पिछले 29 दिनों से एक फीसदी से नीचे है.


यह भी पढ़े: Covid वैक्सीन का बूस्टर डोज़ जरूरी, ओमीक्रॉन समेत कई महामारियों के खिलाफ भी बेहतर

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें


देश में अब तक 3,41,30,768 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मृत्यु दर 1.37 फीसदी है. राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 133.17 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है.

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी. वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे. देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, इस साल चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे.

देश में पिछले 24 घंटे में जिन 202 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. इनमें से 143 लोगों की मौत केरल में और 16 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई है.

केरल सरकार की एक विज्ञप्ति के अनुसार, राज्य में मौत के 143 मामलों में से 34 की मौत पिछले कुछ दिनों में हुई है. वहीं, मौत के 109 मामलों को केन्द्र तथा उच्चतम न्यायालय के नए दिशानिर्देशों के आधार पर कोविड-19 से मौत के मामलों में जोड़ा गया है.

आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से अभी तक कुल 4,75,636 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र में 1,41,259, केरल में 42,967 ,कर्नाटक में 38,261, तमिलनाडु में 36,612, दिल्ली में 25,100, उत्तर प्रदेश में 22,914 और पश्चिम बंगाल में 19,600 लोगों की मौत हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं. मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है.

ओमीक्रॉन वैरिएंट अब धीरे-धीरे देश में पैर पसार रहा है. कुल मिलाकर इस वैरिएंट के अब तक देश में 38 मामले सामने आ चुके हैं.

देश में 2 दिसंबर को ओमीक्रॉन का पहला केस आया था और 10 दिन में नया वैरिएंट 6 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश तक पहुंच गया है. अब तक ओमीक्रॉन के सबसे ज्यादा 18 केस महाराष्ट्र में आए हैं. उसके बाद 9 केस राजस्थान, गुजरात में 3 और कर्नाटक में 3, दिल्ली में 2 और आंध्र में, चंडीगढ़ में 1 और केरल में 1 केस आ चुके हैं.


यह भी पढ़े: Covid वैक्सीन का बूस्टर डोज़ जरूरी, ओमीक्रॉन समेत कई महामारियों के खिलाफ भी बेहतर


share & View comments