कॉल सेंटर में महिला से मारपीट वाले वीडियो के वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

news on delhi police
रोहित सिंह तोमर। विशेष व्यवस्था के द्वारा

दिल्ली पुलिस में  सब-इंस्पेक्टर के बेटे रोहित तोमर के खिलाफ बलात्कार का मामला भी दर्ज किया गया है

नई दिल्ली: दिल्ली के पुलिस उप-निरीक्षक का बेटा, जो एक वायरल हुए वीडियो में एक महिला को पीटता हुआ देखा जा सकता था, को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया है.

उप-निरीक्षक अशोक सिंह तोमर के 21 वर्षीय बेटे रोहित तोमर को उनकी पूर्व प्रेमिका की शिकायत पर तिलक नगर पुलिस ने गिरफ्तार किया. महिला का दावा था कि रोहित पिछले दो महीनों से उनके साथ मारपीट और गाली गलौज कर रहा था.

शहर के एक और पुलिस स्टेशन पर रोहित के खिलाफ बलात्कार का मामला भी दर्ज किया गया है. यह केस उस महिला है के द्वारा किया गया है जिसे उसने वीडियो में पीटा था. यह मामला गुरुवार देर रात को को उत्तम नगर पुलिस स्टेशन में दायर किया गया था.

एंटो अल्फोन्स, डीसीपी, द्वारका द्वारा जारी एक आधिकारिक बयान के मुताबिक़ वीडियो में दिख रही महिला ने पुलिस को एक लिखित बयान दिया है जिसमें उसने आरोप लगाया कि रोहित ने उसे 2 सितंबर को उत्तम नगर में अपने मित्र के कार्यालय में बुलाया और “बिना उसकी सहमति के शारीरिक सम्बन्ध स्थापित किये”.


यह भी पढ़ें : Delhi cop’s son thrashes woman in viral video to scare his ex-girlfriend into marrying him


एक मेडिकल परिक्षण के बाद बाद धारा 376 (बलात्कार ), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने) और 354 (महिला के साथ बलप्रयोग या शारीरिक उत्पीड़न का प्रयास) के तहत स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई.

डरावना वीडियो

1 मिनट 44 सेकेंड लम्बी क्लिप में रोहित एक कॉल सेंटर में महिला को पीटता दिखाई देता है. वह थप्पड़, लात, गाली गलौज के साथ साथ उस औरत को मारने के लिए अपनी कोहनी और घुटनों का प्रयोग करता है जबकि महिला उससे रुकने की प्रार्थना कर रही होती है.

वीडियो रिकॉर्ड करनेवाले व्यक्ति का नाम अली है जोकि रोहित का मित्र और सहपाठी है और उसी कॉल सेंटर में काम करता है. दिप्रिन्ट द्वारा संपर्क किये जाने पर अली ने कहा कि उन्होंने इस वीडियो को अपनी सुरक्षा के लिए रिकॉर्ड किया था.

अली का दावा है कि वह पीटी जा रही महिला को नहीं जानते थे और अनुमान लगाया कि वह “रोहित की क्लब की मित्र ” हो , ऐसा संभव है. हालांकि, उन्होंने कहा कि वे दोनों इस मारपीट के समय नशे में थे.

गिरफ़्तारी पर गिरफ़्तारी 

रोहित की पूर्व प्रेमिका ने बुधवार को शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था. लेकिन उसने दावा किया कि जब वह अगले दिन तिलक नगर स्टेशन गई थी, तो रोहित हिरासत में नहीं था.

डीसीपी दिल्ली पश्चिम , मोनिका भारद्वाज ने शुक्रवार सुबह दिप्रिंट को स्पष्टीकरण दिया कि रोहित पुलिस हिरासत में नहीं थे, हालांकि उन्हें बुधवार को प्री-एम्प्टिव हिरासत में लेकर छोड़ दिया गया था.


यह भी पढ़ें : This Delhi man was called a ‘pervert’ in viral post 3 years ago — and he’s still stuck there


केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने वीडियो का संज्ञान लेकर  दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक से बात की है और  इस मामले में कार्रवाई किये जाने की मांग की.

Read in English : Man seen beating woman in call centre in a viral video arrested by Delhi Police

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here