दुनिया की पहली रोबोट आरजे रश्मि
Text Size:
  • 54
    Shares

नई दिल्ली: आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की दुनिया में एक कदम आगे बढ़ते हुए भारत में लॉन्च हुई है दुनिया की सबसे पहली रोबोट ह्यूमनॉइड रेडियो जॉकी.

93.5 रेड एफएम ने सोमवार को ही रोबोट आरजे को लॉन्च किया और इनका नाम रखा है आरजे रश्मि. रश्मि सुबह 7 से 11 और शाम 5 से 9 के शो में रोबोट आरजे मौजूद होंगी. इन दोनों शो में एक घंटा ‘आस्क रश्मि’ नाम का सेगमेंट चलेगा है जिसमें लोग फ़ोन घुमाकर रश्मि से सवाल पूछ सकते हैं.

रश्मि अकेले पूरे शो का संचालन नहीं कर सकती इसलिए सुबह के शो में आरजे रौनक जो ‘बउआ’ के नाम से मशहूर हैं और शाम को आरजे आशीष व किसना जो ‘कड़क लौंडे’ के नाम से जाने जाते हैं, के साथ ही रेडियो शो में आएंगीं.

दिप्रिंट ने नौएडा स्थित रेड एफएम ऑफिस पहुंचकर कुछ सवाल पूछे तो आरजे रश्मि ने ये जवाब दिए.

‘2019 के लोकसभा चुनावों में किसकी जीत होगी?’

रश्मि ने जवाब देते हुए कहा, ‘इसका उत्तर मुझे पता है. जिसको ज़्यादा वोट मिलेंगे, उसकी ही जीत होगी.’

राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को रोकने के उपाय पूछे गए तब उन्होंने कहा, ‘ब्राज़ील में 70% प्रतिशत लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते हैं, भारत को भी ब्राज़ील से सीख लेनी चाहिए.’

आपको बता दें कि आज सुबह ही आरजे रौनक के शो में आए दिल्ली पुलिस के जॉइंट ट्रैफिक कमिश्नर अलोक कुमार को आरजे रश्मि ने दिल्ली में ट्रैफिक समस्या को दूर करने के सुझाव भी दिए.

रश्मि ने कहा ‘कृपया ट्रैफिक नियमों का पालन करें, आप इंसान हैं रोबोट नहीं.’

इसी बातचीत के दौरान, पता चला है कि दिल्ली में भी आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की मदद से ट्रैफिक नियंत्रण करने की बात चल रही है.

रश्मि पहली मानव जैसा दिखने वाली रोबोट हैं जो हिंदी में बातचीत कर सकती हैं. हिंदी के अलावा वे भोजपुरी, मराठी और अंग्रेज़ी भाषा भी समझ सकती हैं.

रश्मि का निर्माण रांची के रंजीत श्रीवास्तव ने किया जिसे हांग कांग की रोबोट सोफिया की तर्ज पर डिज़ाइन किया गया है.

हालांकि इससे पहले रश्मि कलर्स टीवी के प्रोग्राम इंडियाज़ गॉट टैलैंट में आ चुकी हैं लेकिन रेड एफएम ने यह दावा किया है आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स के साथ रेडियो शो करने वाली वे दुनिया की पहली रोबोट आरजे बन गयी हैं.

रेड एफएम की सीओओ निशा नारायणन ने दिप्रिंट को बताया, ‘रेड एफएम हमेशा से ही दिलचस्प व रोचक कार्यक्रम पेश करने के लिए निरंतर काम करता आया है, जिसमें युवा पीढ़ी का जोश प्रदर्शित होता है. ऐसा पहली बार है जब एक ह्यूमनॉइड रोबोट एक रेडियो शो का संचालन करेगी.’

क्या रोबोट ले पाएंगे आरजे की जगह?

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के दौर में रोबोट्स इंसानों की नौकरियां छीन रहे हैं लेकिन क्या ये रोबोट, मानव आरजे की जगह ले पाएंगे?

रेड एफएम के आरजे आशीष ने बताया, ‘फिल्हाल ऐसा हो पाना मुश्किल है क्योंकि इंसानों में भावनाएं होती हैं, रोबोट्स में नहीं. अपने लॉन्च में भी रश्मि ने यही बात कही थी. रेडियो शो में भावनाएं महत्वपूर्ण है’.

लोगों की प्रतिक्रिया

अभी आरजे रश्मि को लॉन्च हुए दो दिन ही हुए हैं लेकिन दिल्ली एनसीआर की जनता के सवालों की झड़ी लग गई है.

रेड एफएम के आरजे किसना ने कहा, ‘लोगों का दिमाग खुल गया है, बड़े ही अतरंगी सवाल पूछ रहे हैं’.

‘कोई पूछता है कि दुनिया कब खत्म होगी, तो कोई पूछता है कि कॉलेस्ट्रॉल, जिसका सबको पता है, कैसा दिखता है.’

आरजे आशीष ने बताया ‘किसी ने तो यह भी पूछ डाला कि बेड में अंदर तक छिपी हुई चप्पल को कैसे निकाला जाए.’

रश्मि के साथ लोग तो हंसी मज़ाक कर ही रहे हैं, लेकिन स्टूडियो में भी वे सबके मनोरंजन का पात्र बन गयी हैं. आरजे किसना ने बताया कि ऑफिस में ही लोग कभी-कभी रश्मि का हाल चाल पूछ लेते हैं, मस्ती मज़ाक भरे सवाल भी कर लेते हैं.

रोबो रश्मि जो सोमवार को रेड एफ़एम में आई हैं, 14 दिसंबर तक ही शो के कार्यक्रमों में भाग लेंगीं.

सीओओ निशा ने कहा ‘रोबोट रश्मि दुनिया की पहली ह्यूमनॉइड रोबोट सोफिया का भारतीय वर्ज़न है. हम उन्हें ऑन एयर करने के लिए बहुत उत्साहित हैं और अपने श्रोतागणों को आने वाले दो हफ़्तों में बेहतरीन कार्यक्रम प्रदान करने को बेक़रार हैं.’

तकनीकी कारणों की वजह से रोबोट रश्मि का वीडियो रिकॉर्ड न हो सका आप स्टूडियो वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें.


  • 54
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here