Friday, 21 January, 2022

कोरोनावायरस

पिछले 24 घंटे में नए 3,17,532 मामले सामने आए हैं और 491 लोगों की मौत हुई है. कोविड-19 के देश में कुल मामले 3,79,01,241 हो गए हैं. 19,24,051 सक्रिय मामले हैं. इसमें ठीक होकर घर जा चुके लोगों की संख्या 3,52,37,461 है. जबकि 4,87,202 लोगों की मौत हो चुकी है. वायरस के बारे में नवीनतम जानकारी के लिए स्‍वास्‍थ्‍य सलाह और स्थिति पर हर अपडेट के लिए दिप्रिंट हिंदी से जुड़े रहें.

ताज़ा-तरीन

देश में कोरोना के 235 दिन बाद 3 लाख से ज्यादा केस, ‘ओमीक्रोन’ वैरियंट के 9,692 मामले आये सामने

नयी दिल्ली : भारत में एक दिन में कोविड-19 के 3,47,254 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,85,66,027...

India Outbreak

दुनियाभर में कोरोनावायरस का प्रकोप

सारी खबरें

‘शरीर थक रहा है,’ टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने की संन्यास की घोषणा, बोलीं- 2022 होगा आखिरी सीजन

सानिया (35 वर्ष) ने मार्च 2019 में बेटे के जन्म के बाद टेनिस में वापसी की थी लेकिन कोरोनावायरस महामारी उनकी प्रगति के आड़े आ गयी.

कोविड सेंटर, निरंतर निगरानी, ड्यूटी पर डॉक्टर्स- तीसरी लहर में क्या है दिल्ली की जेलों का हाल

अनिवार्य जांच, सभी नए कैदियों को क्वारेंटाइन, तिहाड़ में नया ऑक्सीजन प्लांट स्थापित. तीसरी लहर में जेल के कुल 99 कैदी और 88 स्टाफ कोविड-19 पॉज़िटिव पाए गए हैं.

देश में पिछले 24 घंटे में कोविड के 2.8 लाख से ज्यादा मामले, 441 लोगों की संक्रमण से मौत

देश में 232 दिन में उपचाराधीन मरीजों की यह संख्या सर्वाधिक है. पिछले साल 31 मई को उपचाराधीन मरीजों की संख्या 18,95,520 थी.

मोदी, राहुल गांधी, जोकोविच- उदारवादी जमात से क्या चूक हुई

कोविड वैक्सीन न लगवाने का जोकोविच के फैसले का मैं समर्थन करता हूं लेकिन उदारवाद के व्यापक हक में यह बात महत्वपूर्ण है कि सहमति, स्वाधीनता और निजी पसंद के बारे में उदारवादियों की कसौटी सबके ऊपर समान रूप से लागू हो, न कि भेदभाव के साथ.

निकाय चुनावों से पहले उद्धव सरकार ने अपनी ‘2 साल की उपलब्धियों’ के विज्ञापनों के लिए बनाया 16.5 करोड़ रुपये का बजट

यह प्रचार अभियान मुंबई, पुणे, नागपुर और नासिक सहित 10 नगर निकाय चुनावों से पहले किया जाने वाला है.अधिकारियो का कहना है कि नवंबर में अपनी दूसरी वर्षगांठ पर सरकार ने बहुत अधिक प्रचार नहीं किया था अब होगा.

देश में लगातार बढ़ रहा कोरोना, 24 घंटे में 2.38 लाख नए मामले 310 लोगों की संक्रमण से मौत

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 17,36,628 हो गई है, जो कुल मामलों का 4.62 प्रतिशत है.

पटना की सिविल सर्जन ने कोविड-19 की पांच डोज लेने के खुलासे के बाद, जांच के आदेश

सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी सिंह ने अतिरिक्त खुराक लेने का खंडन करते हुए मामले की जांच में तथ्यों के सामने आने पर कड़ी कार्रवाई करने को कहा है.

‘वायरस फैलने की आशंका’, मोदी सरकार Covid पीड़ितों के अंतिम संस्कार की पारसियों की मांग मानने को तैयार नहीं

केंद्र की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे में कहा गया है कि अगर सूरत पारसी पंचायत बोर्ड की मांग मानी जाती है तो इससे संक्रमण और ज्यादा फैलने की आशंका है, इसलिए शवों के अंतिम संस्कार का एकमात्र तरीका उनकी चिता जलाना या दफनाना ही है.

शी जिनपिंग बोले- Covid से एकजुट कोशिशों से ही निपटा जा सकता है, दुनियाभर में एक समान वैक्सीनेशन हो

उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि एक दूसरे को पछाड़ने की सोच या आरोप-प्रत्यारोप से प्रयासों में देरी ही होगी और हम मुख्य उद्देश्य से भटक जाएंगे.

24 घंटों में देश में ओमीक्रॉन के 8 हजार मामलों समेत कोरोना के आए ढाई लाख से ज्यादा केस, 385 की मौत

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि ‘ओमीक्रॉन’ के महाराष्ट्र में सबसे अधिक 1,738 मामले सामने आए, इसके बाद पश्चिम बंगाल में 1,672, राजस्थान में 1,276, दिल्ली में 549, कर्नाटक में 548 और केरल में 536 मामले सामने आए हैं.

दिल्ली सरकारी अस्पतालों के डॉक्टर्स बोले- बिल्कुल टूटने की कगार पर हैं, बेहतर क्वारेंटाइन की उठाई मांग

डॉक्टरों का कहना है कि ये कमी मुख्य रूप से NEET PG 2021 काउंसलिंग में देरी से पैदा हुई है. लेकिन सरकारी डॉक्टरों में अचानक तेज़ी फैले कोविड संक्रमण ने, संकट को और बिगाड़ दिया है.

भारत की Covid ‘R-वैल्यू’ घटी, 7 से 13 जनवरी के बीच गिरकर 2.2 हुई

‘आर-वैल्यू’ यह इंगित करती है कि कोविड-19 कितनी तेजी से फैल रहा है. यह 25 दिसंबर से 31 दिसंबर तक राष्ट्रीय स्तर पर 2.9 के करीब थी, जबकि 1 जनवरी से 6 जनवरी के बीच यह चार थी.

Covid का खतरा बच्चों को कम, स्कूलों को बंद रखने का कोई मतलब नहीं: विश्व बैंक के शिक्षा निदेशक

निदेशक ने कहा कि स्कूलों को फिर से खोलने के लिए बच्चों का टीकाकरण होने का इंतजार करने के पीछे कोई समझदारी और विज्ञान नहीं है. 

भारत में कोविड-19 टीकाकरण अभियान को हुए एक साल पूरे, अब तक करीब 156.76 करोड़ डोज दी जा चुकी है

अभियान पिछले साल 16 जनवरी से शुरू हुआ था, जब पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की खुराकें दी गईं थी. इसके बाद अग्रिम मोर्चा के कर्मियों के लिए टीकाकरण दो फरवरी से शुरू हुआ था.

बीते 24 घंटे में देश में कोविड-19 संक्रमण के 2.71 लाख नए मामले, 314 लोगों की मौत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या पिछले 225 दिनों में सर्वाधिक 15,50,377 दर्ज की गई जबकि 314 मरीजों की मौत के साथ मृतक संख्या बढ़कर 4,86,066 हो गई.