Saturday, 13 August, 2022

ज़ाहिर जानमोहम्मद

ज़ाहिर जानमोहम्मद
1 पोस्ट0 टिप्पणी
ज़ाहिर जानमोहम्मद हाइफन मैगजीन के वरिष्ठ समाचार-संपादक हैं.

मत-विमत

कैसे अशराफ उलेमा पैगंबर के आखिरी भाषण में भ्रम की स्थिति का इस्तेमाल जातिवाद फैलाने के लिए कर रहे

मक्के में आखिरी हज पर और गदीर में दिए गए भाषण में कही गई बात बिल्कुल एक दूसरे के विपरीत है. एक में पैगंबर मुहम्मद अपने द्वारा किए गए कार्यों का पालन करने का निर्देश देते हैं और दूसरे में अपनी औलाद और रिश्तेदारों का अनुसरण करने को कहते हैं.

वीडियो

राजनीति

देश

लोहरदगा में जवान ने पिस्तौल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या की

लोहरदगा, 12 अगस्त (भाषा) झारखंड के लोहरदगा जिले में पुलिस के एक जवान ने शुक्रवार को पिस्तौल से खुद को गोली मार कथित रूप...

लास्ट लाफ

एक मुख्यमंत्री की ‘प्राइम-आत्मा’ और ‘पूराने’ जैसे बिहार के नए बॉस से मिलिए

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.