होम लेखक द्वारा पोस्ट अमृता पाठक

अमृता पाठक

Avatar
1 पोस्ट 0 टिप्पणी

मत-विमत

news on social culture

सेकुलरिज़्म का ढोंग नहीं, बहुजन राजनीति ही रोकगी फासीवाद को

भारत में लोकतंत्र के टिके रहने की एक बड़ी वजह यह कि वंचित समुदायों को इस शासन प्रणाली से अब भी उम्मीद है. आज जब संविधान पर हमले हो रहे हैं, तब वंचितों की एकता के जरिए ही लोकतंत्र की रक्षा हो सकती है.

राजनीति

देश

अभी शांत नहीं हुआ है पश्चिमी विक्षोभ मच सकती है और तबाही, अब तक 41 की मौत

मौसम विभाग का कहना है कि आज दिन भर 60-70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी वहीं दूसरे दिन यानी 18 अप्रैल को 50-60 किलोमीटर की गति से हवाएं चलेगी.

लास्ट लाफ

राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल की राजनीतिक ‘उलझन’ और जेट एयरवेज की दुर्दशा

चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट, ऑनलाइन या सोशल मीडिया पर और इन्हें उचित श्रेय भी मिला है.