rahul-gandhi-stella-2
राहुल गांधी चेन्नई में स्टेला मैरिस कॉलेज में बातचीत करते हुए/कांग्रेस ट्विटर हैंडल
Text Size:
  • 216
    Shares

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को तमिलनाडु दौरे पर हैं. उन्होंने चेन्नई के स्टैला मेरिस कॉलेज पहुंचकर छात्राओं से बातचीत की और देश की मौजूदा समस्याओं पर सवाल उठाए. राहुल गांधी से मिलकर कॉलेज की छात्राएं बहुत रोमांचित नजर आईं यहां तक कही उन्होंने राहुल को देखकर राहुल-राहुल का नारा भी लगाया. राहुल भी आज काफी बदले-बदले से नजर आए. जब वह कॉलेज पहुंचे तब उन्होंने जींस और टी-शर्ट पहना था. 

राहुल गांधी ने छात्राओं से बातचीत के दौरान राफेल, नोटबंदी, जीएसटी से लेकर रोजगार जैसे सभी ज्वलंत मुद्दों पर बात की. उन्होंने कहा- ‘सरकार को हर व्यक्ति की जांच करने का पूरा अधिकार है. कानून के सामने सभी समान हैं. राफेल के दस्तावेजों में पीएम नरेंद्र मोदी पर आरोप है कि वो राफेल की खरीदारी में लगातार दखलअंदाजी कर रहे थे. हर किसी पर कार्रवाई हो फिर वो चाहे नरेंद्र मोदी हों या रॉबर्ट वाड्रा.’

कार्यक्रम के दौरान राहुल ग्रे रंग की टीशर्ट और ब्लू जींस पहने हुए थे. एक छात्रा ने जब उन्हें ‘राहुल सर’ कहकर संबोधित किया तो राहुल ने मुस्कुराते हुए कहा कि ‘मैं सिर्फ राहुल हूं, मुझे सर न बुलाएं.’ 

इस दौरान राहुल ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए छात्राओं से पूछा कि क्या आपने कभी प्रधानमंत्री मोदी को 3000 लड़कियों के बीच सवाल-जवाब करते हुए देखा है? क्या पीएम में हिम्मत है कि वो इस तरह खड़े होकर सवालों के जवाब दे सकें?

महिलाओं को पुरुषों के बराबर होना चाहिए. सच कहूं तो मुझे शीर्ष स्तर पर पर्याप्त संख्या में महिलाएं नहीं दिखतीं. हम संसद में महिला आरक्षण विधेयक पारित करने जा रहे हैं और हम महिलाओं के लिए 33% सरकारी नौकरियां आरक्षित करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मेरा गुस्से में विश्वास नहीं है. मैंने अपनी मां से विनम्रता का गुण सीखा है. कोई व्यक्ति कितना भी कमजोर हो, उसकी राय भी अनूठी हो सकती है और हर किसी को इसका हमेशा सम्मान करना चाहिए.

साथ ही राहुल ने नरेंद्र मोदी को गले लगने के किस्से पर भी बात की. उन्होंने कहा, ‘हर धर्म सिखाता है कि आपस में प्यार से रहें. हमें गले लगना सिखाया गया है. मैं गुस्से में विश्वास नहीं रखता.’

एक छात्रा के सवाल का जवाब देते हुए राहुल ने देश में शिक्षा पर हो रहे खर्च पर भी बात की और कहा कि शिक्षा पर खर्च किया जाना चाहिए.

साथ ही राहुल महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर बोलना नहीं भूले. उन्होंने छात्राओं का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि मैं आपसे कहना चाहता हूं कि इस समाज में आपका भी हक है, आपसे कहा जाएगा आप ये कर सकती हैं और आप यह नहीं कर सकती हैं. अगर कोई आपसे कहे कि आप ये नहीं कर सकतीं तो आप उसे बिलकुल न स्वीकारें. आप खुदपर विश्वास करना सीखें. 

गौरलतब है कि ओडिशा के मुख्यंमत्री नवीन पटनायक ने लोकसभा चुनाव में 33 प्रतिशत टिकटें देने की घोषणा की है. वहीं, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी 41 प्रतिशत टिकटों पर महिला कैंडिडेट्स को उतारने की घोषणा की है. ऐसे में कांग्रेस भी महिला सशक्तिकरण के मुद्दे को भुनाती दिख रही है.

वहीं, एक और प्रेस कांफ्रेस कर राहुल गांधी ने तमिलनाडू, महाराष्ट्र और झारखंड में बाकी पार्टियों से कांग्रेस के साथ गठबंधन पर बात की. उन्होंने मीडिया को बिहार और जम्मू-कश्मीर के बारे में स्पष्ट करते बताया कि इन दोनों राज्यों में बातचीत अभी जारी है.


  • 216
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here